छह जिलों की रेत खदानों के लिए फिर से बुलाएं जाएंगे टेंडर - .

Breaking

Friday, 13 December 2019

छह जिलों की रेत खदानों के लिए फिर से बुलाएं जाएंगे टेंडर

Bhopal News : छह जिलों की रेत खदानों के लिए फिर से बुलाएं जाएंगे टेंडर

खनिज साधन विभाग शाजापुर, आगर-मालवा, उज्जैन, शहडोल, राजगढ़ व गुना जिला समूह की रेत खदानों के लिए फिर से टेंडर बुलाएगा। इसके आदेश शुक्रवार या शनिवार को जारी हो सकते हैं। दो जिलों में एक भी टेंडर न आने, तीन जिलों में महज एक-एक और राजगढ़ जिले में तकनीकी परीक्षण के बाद सिर्फ एक वैध टेंडर रहने की स्थिति में खदानों की नीलामी दोबारा की जा रही है। जिन जिलों में दो-दो टेंडर आए थे। उनके संबंध में लोक निर्माण विभाग से सलाह ली जा रही है।
विभाग ने प्रदेश में 43 जिला समूह बनाकर रेत खदानें नीलाम की हैं। नीलामी के दौरान 475 करोड़ रुपए के आरक्षित मूल्य के विरुद्ध सरकार को 1234 करोड़ रुपए के वित्तीय प्रस्ताव प्राप्त हुए हैं। इनमें से शाजापुर और आगर-मालवा जिले की खदानों के लिए एक भी टेंडर नहीं आया। जबकि उज्जैन, गुना और शहडोल जिलों की खदानों के लिए सिर्फ एक-एक टेंडर ही डाला गया।
वहीं राजगढ़ जिले की खदानों के समूह के लिए आए टेंडरों में से तकनीकी परीक्षण के दौरान सिर्फ एक ही वैध रह गया। इसलिए विभाग सभी छह जिलों की खदानों के समूहों की नीलामी फिर से कर रहा है। विभाग ने ऐसे जिलों को लेकर लोक निर्माण विभाग से परामर्श मांगा है, जिनमें दो-दो वैध टेंडर आए हैं। विभाग के अफसरों का कहना है कि लोक निर्माण विभाग के सामने लगातार ऐसे मामले आते हैं इसलिए वहां के अफसरों को नियमों का बेहतर ज्ञान है। इस कारण उनसे परामर्श मांगा गया है। उल्लेखनीय है कि नीलामी नियमों में दो से कम टेंडर आने पर दोबारा बुलाने का प्रावधान है।
पन्ना में खदान नीलामी की होगी जांच :- पन्ना जिले की रेत खदान समूह की नीलामी प्रक्रिया की जांच कराई जाएगी। यहां से शिकायत आई है कि नीलामी प्रक्रिया के दौरान नेटवर्क ठीक से काम नहीं कर रहा था इसलिए विभाग ने इसे होल्ड कर दिया है। अब पहले शिकायत की जांच कराई जाएगी और जांच में कोई गड़बड़ी की पुष्टि नहीं हुई, तो संबंधित फर्म्स को ठेका दे दिया जाएगा। जबकि गड़बड़ी पाए जाने पर जिले की नीलामी प्रक्रिया निरस्त कर दोबारा नीलामी कराई जाएगी।

No comments:

Post a comment

Pages