त्‍योहारी सीजन में सौगात, दिवाली पर Double Salary घर ले जा सकते हैं ये कर्मचारी - .

Breaking

Thursday, 3 October 2019

त्‍योहारी सीजन में सौगात, दिवाली पर Double Salary घर ले जा सकते हैं ये कर्मचारी

Festival Season : त्‍योहारी सीजन में सौगात, दिवाली पर Double Salary घर ले जा सकते हैं ये कर्मचारी

त्‍योहारों का सीजन शुरू हो चुका है। मंदी की खबरों के बीच बाजार में खरीदारी का दौर शुरू हो चुका है। जहां तक वर्किंग सेक्‍टर की बात है, तो सरकारी क्षेत्रों में काम करने वाले लोगों के लिए आने वाला समय सौगात भरा हो सकता है। केंद्र सरकार कई कर्मचारियों-पेंशनर्स को सातवें वेतनमान की राहत देने जा रही है। दूसरी तरफ, बैंकिंग सेक्‍टर में भी खुशियों की दस्‍तक हो सकती है। आइये जानते हैं डिटेल।
14 लाख बैंकर्स को मिल सकती हैं खुशियां :- त्योहारों का यह सीजन देश के 14 लाख बैंक कर्मचारियों के लिए खुशियां ला सकता है, क्योंकि भारतीय बैंक संघ (आईबीए) ने सरकारी बैंकों, निजी बैंकों और विदेशी बैंकों के प्रमुखों को कर्मचारियों के खातों में दिवाली से पहले 1 महीने का एडवांस वेतन देने के लिए कहा है।
पहले से चल रही थी बात :- आईबीए (Indian Banks' Association) ने सरकारी बैंकों, निजी बैंकों और विदेशी बैंकों के सभी प्रमुखों को एक पत्र के माध्यम से कर्मचारियों को त्योहार से पहले एडवांस वेतन प्रदान करने के लिए कहते हुए कहा है कि बैंक कर्मचारियों के वेतन संशोधन पर बातचीत पहले से ही चल रही है। इसलिए, एक कर्मचारी के एक महीने के वेतन के बराबर एक एड-हॉक राशि दी जानी चाहिए। इस अग्रिम भुगतान में मूल वेतन और महंगाई भत्ता (डीए) शामिल होगा।
1 नवंबर 2017 से ऑन रोल वालों को पात्रता :- आईबीए के मुख्य कार्यकारी अधिकारी वीजी कन्नन के पत्र के अनुसार, यह वेतन बैंकों के सभी नियमित कर्मचारियों, कर्मचारियों और अधिकारियों को दिया जाना चाहिए। पत्र में आगे कहा गया है कि अग्रिम उन कर्मचारियों को दिया जाना चाहिए जो 1 नवंबर, 2017 से ऑन रोल पर हैं, और वर्तमान में बैंक में काम कर रहे हैं। वे कर्मचारी जिन्‍होंने 1 नवंबर, 2017 और 31 मार्च, 2019 के बीच ज्‍वाइनिंग दी थी, उन्हें त्योहार के अग्रिम वेतन के रूप में उनके वेतन का आधा हिस्सा मिलेगा।
बाद में एडजस्‍ट होगा यह एडवांस पेमेंट :- आईबीए के अनुसार त्‍योहारी सीजन के दौरान दिए जाने वाले एडवांस पेमेंट को बाद में दिए जाने वाले एरियर्स से एडजस्‍ट किया जाएगा। इसके अलावा बाद में जब भी वेज रिवाइज होगा, इस राशि को उसके साथ एडजस्‍ट कर दिया जाएगा। आईबीए ने कहा कि इस एडवांस सैलेरी की सिफारिश बैंकर्स का हौसला बढ़ाने के लिए की गई थी, इसीलिए इसे एडहॉक पेमेंट कहा गया है।

No comments:

Post a Comment

Pages