भोपाल एयरपोर्ट पर पैंसेंजर ग्रोथ रेट बढ़ा, लेकिन सवा लाख संख्या वाले क्लब से अब भी बाहर - .

Breaking

Wednesday, 2 October 2019

भोपाल एयरपोर्ट पर पैंसेंजर ग्रोथ रेट बढ़ा, लेकिन सवा लाख संख्या वाले क्लब से अब भी बाहर

भोपाल एयरपोर्ट पर पैंसेंजर ग्रोथ रेट बढ़ा, लेकिन सवा लाख संख्या वाले क्लब से अब भी बाहर

देश के प्रमुख हवाई अड्डों में शामिल हो चुके राजा भोज एयरपोर्ट पर पिछले साल के मुकाबले पैसेंजर ग्रोथ रेट तेजी से बढ़ा है, लेकिन हमारा एयरपोर्ट इस बार भी सवा लाख मासिक संख्या वाले क्लब में शामिल नहीं हो सका है। यात्रियों की संख्या और फ्लाइट मूवमेंट ग्रोथ को देखते हुए अगले माह इस क्लब में शामिल होने की उम्मीद की जा रही है।
एयरपोर्ट अथारिटी ऑफ इंडिया की ओर से जारी आंकड़ों के अनुसार अगस्त माह में भोपाल से 1 लाख 19 हजार 687 यात्रियों ने देश के विभिन्न शहरों तक यात्रा की। पिछले साल यानि अगस्त 2018 में यह संख्या मात्र 56 हजार 421 थी। यानि ग्रोथ रेट 112.2 फीसदी दर्ज किया गया है। वहीं वार्षिक ग्रोथ रेट 81.7 दर्ज किया गया है। जून माह में हमारा एयरपोर्ट पहली बार सवा लाख मासिक यात्री संख्या वाले देश के बड़े हवाई अड्डों की सूची में शामिल हुआ था। जून माह में भोपाल से 1 लाख 25 हजार 512 यात्रियों ने विमान से सफर किया। इस बार मामूली अंदर से भोपाल को फिर से एक लाख मासिक यात्री संख्या वाले क्लब में आना पड़ा है। हालांकि जुलाई माह के मुकाबले यात्री बढ़े हैं। जुलाई में 1 लाख 16 हजार 491 यात्रियों ने सफर किया।
ऑफ सीजन का असर नजर आया :- एयरलाइंस कंपनियों के लिए अगस्त-सितंबर माह ऑफ सीजन माना जाता है। इस अवधि में कंपनियों लो-फेयर स्कीम भी जारी करती हैं, लेकिन इसके बावजूद पर्याप्त यात्री नहीं मिल पाते। इस बार अगस्त माह में एयर इंडिया ने अपनी दिल्ली एवं मुंबई उड़ान को कई बार निरस्त किया। कुछ उड़ानें हज रूट पर लगा दी गईं। इससे यात्रियों की संख्या कम हो गई। स्पाइस जेट की उदयपुर, सूरत एवं शिर्डी उड़ान में भी यात्री अचानक कम हो गए। मौसम खराब होने से भी उड़ानें रद्द हुईं। इसी कारण राजा भोज एयरपोर्ट सवा लाख मासिक यात्री संख्या वाले क्लब में शाामिल नहीं हो सका।
फ्लाइट मूवमेंट में 116 फीसदी बढ़ोतरी :- अगस्त माह में भोपाल एयरपोर्ट से 1271 उड़ानों ने फेरे लगाए। पिछले साल यानि अगस्त 2019 में 588 विमानों ने उड़ान भरी। यानि इस बार फ्लाइट मूवमेंट 116.2 फीसदी बढ़ा है। माल की आवक के मामले में भोपाल एयरपोर्ट अब भी काफी पीछे है। जुलाई माह में केवल 129 मैट्रिक टन माल की ही आवक हुई थी। अगस्त माह में यह घटकर मात्र 99 टन रह गई। भोपाल में कार्गों सेंटर बन रहा है। माना जा रहा है इसके बाद माल की आवक तेजी से बढ़ेगी।
इस माह बढ़ेगी यात्रियों की संख्या :- अगस्त माह में कई उड़ानें निरस्त हुईं। कुछ उड़ानों के रूट बदल दिए गए इस कारण संख्या सवा लाख तक नहीं पहुंच सकी। अक्टूबर माह में संख्या बढ़ेगी। इंडिगो की बंद हो चुकी हैदराबाद उड़ान फिर शुरू हो रही है। स्पाइस की जयपुर-अहमदाबाद उड़ान शुरू हो चुकी है। इससे ग्रोथ रेट बढ़ेगा।

No comments:

Post a Comment

Pages