दिल्ली पुलिस ने पकड़ी हथियारों की बड़ी खेप, एक तस्कर गिरफ्तार - .

Breaking

Thursday, 26 September 2019

दिल्ली पुलिस ने पकड़ी हथियारों की बड़ी खेप, एक तस्कर गिरफ्तार

Arms Seized: दिल्ली पुलिस ने पकड़ी हथियारों की बड़ी खेप, एक तस्कर गिरफ्तार

दिल्ली में पुलिस ने हथियारों की बड़ी खेप जब्त की है। इन हथियारों में 40 पिस्टल, एक कार्बाइन व पिस्टल की 20 अतिरिक्त मैग्जीन शामिल है। दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने सोमवार देर रात गाजीपुर सब्जी मंडी के पास से एक हथियार तस्कर को दबोचकर हथियारों की बड़ी खेप जब्त की है। ये अवैध हथियार कार में लगे सीएनजी गैस सिलेंडर के अंदर छिपाकर रखे गए थे। हथियारों को छिपाने के लिए सिलेंडर को विशेष रूप से डिजाइन किया गया था। अवैध हथियार मध्य प्रदेश के धार के बने हुए हैं और दिल्ली-एनसीआर के गैंगस्टरों को इनको सप्लाई किया जाना था। गिरफ्तार तस्कर इरशाद खान (24) मूलरूप से उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर का रहने वाला है।
डीसीपी डॉ. जी राम गोपाल नाईक के अनुसार इरशाद नौ महीने में दिल्ली-एनसीआर के बदमाशों को 100 से अधिक हथियारों की आपूर्ति कर चुका है। उसके परिजन 1994 में मुजफ्फरनगर से नोएडा शिफ्ट हुए थे। यहां नौवीं तक पढ़ाई करने के बाद उसने पिता के साथ मिलकर 2002 से 2014 तक नॉर्थ दिल्ली पावर लिमिटेड (एनडीपीएल) के लिए इलेक्ट्रिक मीटर लगाने का काम किया। 2015 में उसने कपड़ों को दुबई निर्यात करने का कारोबार शुरू किया। 2016 में इरशाद को मादक पदार्थ की तस्करी के आरोप में आईजीआई एयरपोर्ट पर दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार किया।
नवंबर 2018 में जमानत पर बाहर आने के बाद इरशाद वाहनों की चोरी करने लगा। वाहन चोरी के आरोप में दिल्ली व फरीदाबाद पुलिस के हत्थे चढ़ने पर वह फिर सलाखों के पीछे गया। दिल्ली व हरियाणा की जेलों में उसका कुछ गैंगस्टरों से परिचय हुआ। इस साल फरवरी में जेल से बाहर आने के बाद उसने हथियारों की तस्करी का काम शुरू कर दी। इरशाद मध्य प्रदेश से अवैध हथियार खरीदकर उन्हें दिल्ली-एनसीआर में खपाता था। पुलिस से बचने के लिए सने इंदिरापुरम, गाजियाबाद में ठिकाना बनाया था।
पुलिस तस्कर से पूछताछ कर इस बात का पता लगाने की कोशिश कर रही है कि ये हथियार किन बदमाशों को सप्लाई किए जाने थे। त्यौहारों से पहले कारोबारियों से लूटपाट और रंगदारी मांगने जैसे मामले सामने आने लगते हैं। ऐसे में हथियार तस्कर की गिरफ्तारी दिल्ली पुलिस की बड़ी कामयाबी मानी जा रही है। दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच उत्तर प्रदेश के मेरठ, मथुरा, हरियाणा व राजस्थान के मेवात क्षेत्र, बिहार के मुंगेर व मध्य प्रदेश के तस्करों के बारे में जानकारी जुटा रही थी। इसी दौरान इरशाद खान के बारे में पता चला। क्राइम ब्रांच को 24 सितंबर को सूचना मिली कि इरशाद हथियारों की आपूर्ति करने के लिए गाजीपुर सब्जी मंडी के पास आने वाला है।

No comments:

Post a Comment

Pages