50 रुपए किलो के पार पहुंचा प्याज, थाली से दूर हो रहीं हरी सब्जियां - .

Breaking

Friday, 20 September 2019

50 रुपए किलो के पार पहुंचा प्याज, थाली से दूर हो रहीं हरी सब्जियां

50 रुपए किलो के पार पहुंचा प्याज, थाली से दूर हो रहीं हरी सब्जियां

प्रदेशभर में जारी भारी बारिश की मार सब्जियों पर भी पड़ रही है। खेतों में पानी भरने से सब्जियां टूट नहीं पा रही हैं। इसके चलते मंडी तक नहीं पहुंचने से इनके भाव आसमान छू रहे हैं। इसके अलावा 40 से 50 रुपए किलो तक भाव पहुंचने से शहरवासियों को प्याज भी रुला रही है। होटल व रेस्टोरेंट मालिकों ने खाने की थाली में ग्राहकों को दी जाने वाली प्याज बंद कर दी है। इसकी जगह ककड़ी दी जाने लगी है। यदि कोई प्याज की मांग करता है तो उससे 20 रुपए प्लेट के हिसाब से अलग से लिए जा रहे हैं।
इतना ही नहीं खाने की थाली से गिलकी, बरबटी, भिंडी, पालक, मैंथी सहित अन्य हरी सब्जियां भी गायब हो गई हैं। बारिश के कारण हरी सब्जियां या तो खेतों में सड़ गई हैं या टूटकर मंडी तक नहीं पहुंच पा रही हैं। इससे हरी सब्जियों के दाम आसमान छू रहे हैं।
सब्जियों के भाव सुनकर उड़ रहे होश
शहर में अलग-अलग स्थानों पर लगने वाले हाट बाजारों में अच्छी व बड़ी प्याज 50 रुपए प्रतिकिलो के हिसाब से मिल रही है। वहीं छोटी व बारिश से भीगी हुई प्याज 40 रुपए प्रतिकिलो उपलब्ध है। दो सप्ताह पहले 15 से 20 रुपए किलो प्याज के दाम थे। वहीं जो गिलकी 40 रुपए किलो थी अब 80 रुपए किलो हो गई है। बरबटी भी 60 से 80 रुपए तक पहुंच गई है। पालक व मैंथी 100 रुपए तक किलो मिल रही है।
बारिश के कारण प्याज सहित अन्य सब्जियों की आवक घटी
बिट्टन मार्केट हाट बाजार के फुटकर सब्जी व्यापारी संघ के अध्यक्ष हरिओम ने बताया कि बारिश के कारण प्याज व हरी-सब्जियों के दाम बढ़े हैं। प्याज 50 और लहसुन 200 रुपए तक पहुंच गया है। वेजर हाउस से मंडी तक आने और मंडी से हाट बाजारों तक पहुंचने के दौरान प्याज गीली हो रही है। इससे काफी मात्रा में प्याज सड़ रही है। इससे प्याज महंगी हो गई है। वहीं भोपाल, सीहोर, रायसेन, विदिशा, होशंगाबाद से लगे गांवों से आने वाली हरी सब्जियां खेतों में पानी भरने से सड़ रही हैं। खेतों में दलदल व पानी होने से सब्जियां कम मात्रा में तोड़ी जा रही हैं। इससे करोंद मंडी और फिर हाट बाजारों व ठेलों तक पहुंचने तक सब्जियां महंगी मिल रही हैं।
सब्जियों के भाव
थोक और फुटकर
प्याज-30-40 से 50
लहसुन-150 -200
हरी मिर्च-30-40
गिलकी-60-80
बरबटी-60-80 से 90
परमल-30-40
फूल गोभी-30-50
पत्ता गोभी-40-60
पालक-60-100
मैंथी-60-100
बैंगन-30-40

No comments:

Post a Comment

Pages