चंबल नदी में उफान के चलते कई गांवों का नागदा से संपर्क टूटा, मंत्री का काफिला भी फंसा - .

Breaking

Friday, 9 August 2019

चंबल नदी में उफान के चलते कई गांवों का नागदा से संपर्क टूटा, मंत्री का काफिला भी फंसा

VIDEO : चंबल नदी में उफान के चलते कई गांवों का नागदा से संपर्क टूटा, मंत्री का काफिला भी फंसा

मालवा अंचल में लगातार हो रही बारिश से चंबल नदी में एक बार फिर उफान आ गया। मंदिर कि छत भी जल मग्न हो गया। इस वर्ष यह तीसरा मौका है जब चंबल नदी में इतना उफान आया है। चंबल नदी में उफान आने से कई गांव का संपर्क नागदा शहर से टूट गया। आसपास के कई गांव में भी मकान गिर गए है। हालांकि कोई जनहानी नहीं हुई है। शहर में स्थित बनबना तालाब भी ओवर फ्लो हो गया।

तालाब न नदी में उफान से प्रशासन अलर्ट हो गया और शुक्रवार सुबह शहर में मुनादी कराई गई, साथ ही निचली बस्तियों को खाली करने के निर्देश भी दिए गए। प्रशासन ने गंभीर नदी के डेम पर खाले जाने वाले गेट के चलते शहरवासियों से अपिल कि है वे आवश्यक कार्य हो तो ही उज्जैन जाए। अन्यथा शहर में ही रहे। इधर में शहर में भी लगातार जारी बारिश से जनजीवन अस्त व्यस्त हो गया है। मुख्य बाजार में सन्नाटा पसर गया है। कई व्यापारियों ने दुकाने ही नहीं खोली।
आगर-मालवा में प्रभारी मंत्री का काफिला फंसा  :- आगर मालवा जिले के प्रभारी मंत्री जयवर्धन सिंह आगर जिले के नलखेड़ा आप की सरकार आपके द्वार कार्यक्रम में आ आ रहे थे। उज्जैन रोड पर तनोडिया के पास पुलिया पर पुलिया पर पानी अधिक होने के कारण प्रभारी मंत्री का काफिला फंस गया।

गांव का शहर से टूटा संपर्क :- चंबल नदी में उफान आने से कई गांव का संपर्क शहर से टूट गया है। चंबल नदी पर नागदा में नायन डेम पर बना पुल सुबह 8 बजे डूब गया। जिससे आधा दर्जन गांव का संपर्क टूट गया। गांव नायन, भीलसुड़ा, पाड़सुतिया, बड़ा गांव, भीकमपुर के लोगों को नागदा आने के लिए पचलासी व बुरानाबाद होते हुए लगभग 10 किमी का अतिरिक्त चक्कर लगा कर नागदा आना पड़ रहा है। इसी प्रकार गांव पिपलौदा बागला में चंबल नदी पर बनी पुलिया डूब गई। जिससे गांव जलवाल समेत आधा दर्जन गांव का भी संपर्क टूट गया है। गांव नायन में बारिश महेंद्रसिंह का मकान भी गिर गया।

No comments:

Post a Comment

Pages