न्यूजीलैंड के खिलाफ हार पर कोहली-शास्त्री से होंगे सवाल-जवाब - .

Breaking

Friday, 12 July 2019

न्यूजीलैंड के खिलाफ हार पर कोहली-शास्त्री से होंगे सवाल-जवाब

World Cup 2019 Review Meeting: न्यूजीलैंड के खिलाफ हार पर कोहली-शास्त्री से होंगे सवाल-जवाब

भारतीय क्रिकेट टीम को बुधवार को क्रिकेट वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल में न्यूजीलैंड के हाथों अप्रत्याशित रूप से 18 रनों से हार का सामना करना पड़ा था। यह हार धक्का पहुंचाने वाली थी क्योंकि मजबूत बल्लेबाजी पंक्ति वाली भारतीय टीम के सामने सिर्फ 240 रनों का टारगेट था। अब टीम के भारत लौटते ही कोच रवि शास्त्री और कप्तान विराट कोहली की प्रशासकों की समिति ( COA) के साथ समीक्षा बैठक होगी। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार यह समीक्षा बैठक 17 जुलाई को सकती है। भारतीय टीम के कई खिलाड़ी रविवार को स्वदेश लौटेंगे।
इस वर्ल्ड कप में भारत की हार के साथ ही कई सवाल खड़े हुए थे और अब कोच शास्त्री और कप्तान विराट को इस मामले में कई सवालों के जवाब देने होंगे। सबसे अहम सवाल यह पूछा जाएगा कि जब न्यूजीलैंड के खिलाफ सेमीफाइनल में भारत की शुरुआत खराब हुई थी तो महेंद्रसिंह धोनी को बल्लेबाजी क्रम में सातवें क्रम पर क्यों भेजा गया। विशेषज्ञों की राय यह थी कि धोनी को ऐसी विषम स्थिति में बल्लेबाजी क्रम में उपर भेजा जाना चाहिए था। सीओए के प्रमुख विनोद राय के अलावा डायना इदुल्जी और रवि थोज इस बैठक में उपस्थित रहेंगे। इनके अलावा सिलेक्शन कमेटी प्रमुख एमएसके प्रसाद भी बैठक में मौजूद रहेंगे।
खबरें ऐसी आ रही है कि बैटिंग कोच धोनी को बैटिंग कोच संजय बांगर की सलाह के बाद सातवें क्रम पर भेजा गया था लेकिन कोच और कप्तान से पूछा जाएगा कि उन्होंने इसका विरोध क्यों नहीं किया। विजय शंकर चोटिल होकर वर्ल्ड कप से बाहर हुए थे जबकि उसके एक दिन पहले बांगर ने यह बयान दिया था कि सभी खिलाड़ी चयन के लिए उपलब्ध है। वे पहले से चोटिल थे तो टीम प्रबंधन की तरफ से ऐसा बयान क्यों दिया गया था। अंबाती रायुडू को लेकर भी सवाल पूछा जाएगा कि जब उन्हें स्टैंड बाय में रखा गया था तो उन्हें विजय शंकर के वर्ल्ड कप से बाहर होने के बाद टीम में शामिल होने को क्यों नहीं भेजा गया। मयंक अग्रवाल को टीम में लिया गया जबकि उन्होंने भारत की तरफ से एक भी वनडे मैच नहीं खेला था। दिनेश कार्तिक वर्ल्ड कप से पहले लगातार फेल हो रहे थे फिर भी उन्हें टीम में क्यों चुना गया, इस बारे में भी सवाल पूछे जाएंगे।

कोच और कप्तान को इसके अलावा भी कई सवालों के जवाब देने होंगे। वैसे सिलेक्शन कमेटी पर भी सवाल उठेगा कि उन्होंने रायुडू को टीम में क्यों नहीं लिया था। रायुडू ने इस तरह नजरअंदाज किए जाने के बाद क्रिकेट से संन्यास ले लिया था।

No comments:

Post a Comment

Pages