धर्मेंद्र ने बेटे सनी देओल के लिए मांगा समर्थन, मगर याद आ गयी राजनीति की कड़वाहट! - .

Breaking

Thursday, 2 May 2019

धर्मेंद्र ने बेटे सनी देओल के लिए मांगा समर्थन, मगर याद आ गयी राजनीति की कड़वाहट!

धर्मेंद्र ने बेटे सनी देओल के लिए मांगा समर्थन, मगर याद आ गयी राजनीति की कड़वाहट!

पापा धर्मेंद्र के नक्शे-क़दम पर चलते हुए बेटे सनी देओल ने भी अभिनय की दमदार पारी खेलने के बाद अब देश की सियासत की तरफ़ क़दम बढ़ाया है। सनी भारतीय जनता पार्टी के टिकट पर पंजाब के गुरदासपुर से लोक सभा चुनाव लड़ रहे हैं। ख़ुद बीकानेर से सांसद रह चुके धर्मेंद्र ने सनी की उम्मीदवारी का समर्थन करते हुए मौजूदा राजनीति पर चोट भी की है। साथ ही अपने कार्यकाल के दौरान बीकानेर में किये गये अच्छा कामों की याद भी दिलायी है।
सनी ने कुछ दिन पहले ही लोक सभा चुनाव के लिए भाजपा का हाथ थामा है और वो पूरी तरह चुनावी रंग में रंग भी गये हैं। सोशल मीडिया से सड़कों तक सनी को एक नेता के अंदाज़ में रैली करते हुए देखा जा सकता है। बेटे की सियासी पारी की शुरुआत पर धर्मेंद्र को अपना सांसद वाला दौर याद आ गया है। पर्दे के सुपरस्टार धर्मेंद्र की संसदीय कार्यकाल के दौरान काफ़ी आलोचना हुई थी। धर्मेंद्र यह भी जानते हैं कि सनी का सियासी सफ़र आसान नहीं होगा। धर्मेंद्र का बतौर सांसद कार्यकाल बार-बार उनके रास्ते की अड़चन बनेगा। इसका अंदाज़ा उनके ट्वीट से हो जाता है।
सनी के साथ अपनी तस्वीर ट्विटर पर शेयर करके धर्मेंद्र ने लिखा है- राजनीति मुक़द्दर में थी। हम चले आये। अब बहुत सारे मेरे भाई-बहन भली बुरी बातें कहेंगे, उन सबकी बातें सर माथे पर। एक बात मैं दावे से कह देना चाहता हूं, जो काम बीकानेर में 50 साल से ना हो सके, मैंने 5 साल में करवा लिये थे। हालांकि धर्मेंद्र के इस दावे को कुछ यूज़र्स ने ग़लत भी कहा है। धर्मेंद्र ने 2004 में बीकानेर से भाजपा के टिकट पर लोकसभा चुनाव जीता था, मगर संसद में ग़ैरहाज़िरी के लिए उन्हें क्रिटिसाइज़ किया जाता रहा। धर्मेंद्र ने इसके बाद राजनीति छोड़ दी। 
धर्मेंद्र को व्यक्तिगत तौर पर राजनीति रास नहीं आयी, मगर बेटे सनी के लिए उन्होंने सहयोग की अपील करते हुए लिखा है- राजनीति इतनी घिनौनी हो चुकी है दोस्तों। यहां ए, ज़ेड बन जाती है। ज़ेड, ए हो जाता है। हम इसकी एबीसी नहीं जानते। हां, भारत हमारी मां है। मां के लिए हम आपका सहयोग मांगते हैं। हमारा साथ दो। जीत ये आपकी होगी। मेरे पंजाब के भाई-बहनों की होगी। भारत मां के एक ख़ूबसूरत अंग गुरदासपुर की होगी। गुरदासपुर से विनोद खन्ना बीजेपी के सांसद थे। सनी ने 27 अप्रैल को विनोद खन्ना की पुण्यतिथि पर उन्हें श्रद्धांजलि देते हुए अपने लिए समर्थन मांगा था। सनी ने ट्वीट किया- विनोद खन्ना जी की पुण्यतिथि पर भावभीनी श्रद्धांजलि। उनके द्वारा शुरू किये गये कार्यों को पूरा करने के लिए गुरदासपुर आ रहा ूहं। आप सभी का आशीर्वाद अपेक्षित है। 

No comments:

Post a Comment

Pages