जारी होंगे एग्जिट पोल, BJP के आंकड़ों पर सबकी नजर - .

Breaking

Sunday, 19 May 2019

जारी होंगे एग्जिट पोल, BJP के आंकड़ों पर सबकी नजर

Lok Sabha Elections Exit Poll 2019 Live Update: कुछ ही देर में जारी होंगे एग्जिट पोल, BJP के आंकड़ों पर सबकी नजर

Lok Sabha Elections 2019 के आखिरी चरण की वोटिंग पूरी होते ही रविवार शाम 6 बजे आचार संहिता समाप्त हो जाएगी। इसके साथ ही विभिन्न एजेंसियां अपने एग्जिट भी पोल जारी कर देंगी। इससे एक हद तक अंदाजा लगाया जा सकता है कि इस बार किसकी सरकार बनने के आसार हैं। हालांकि सभी 542 लोकसभा सीटों के लिए नतीजे 23 मई, गुरुवार को आएंगे।

जो प्रमुख एजेंसियां एग्जिट पोल जारी करेंगी, उनमें शामिल हैं News18-IPSOS, इंडिया टुडे-Axis, टाइम्स नाऊ-CNX, NewsX-Neta, रिब्लिक-जन की बात, रिपब्लिक-CVoter, ABP-CSDS और Today's चाणक्य। बता दें, इस बार लोकसभा चुनाव 7 चरणों में हुआ है। पहले चरण की वोटिंग 11 अप्रैल को हुई थी।
मोदी सरकार दोबारा जनता का आशीर्वाद मांग रही है, वहीं विपक्षी दल बदलाव की अपील करते नजर आए हैं। भाजपा जहां 300 से ज्यादा सीटों का दावा कर रही है, वहीं कांग्रेस व अन्य दल मान रहे हैं कि इस बार एनडीए को बहुमत हासिल नहीं होगा। इन चुनावों में राष्ट्रवाद सबसे बड़ा मुद्दा रहा और इससे जुड़े कई विवादित बयान भी सामने आए।
ऐसा रहा था 2014 का परिणाम: 2014 में भाजपा ने मोदी को चेहरा बनाकर चुनाव लड़ा था और उसे जबरदस्त सफलता मिली थी। 543 सीटों के लिए बहुमत का आंकड़ा 272 है। अकेली भाजपा को 282 सीटें मिली थीं और एनडीए का आंकड़ा 336 पर जा पहुंचा था। कांग्रेस 44 सीटों पर सिमट गई थी और यूपीए को सिर्फ 60 सीटों से संतोष करना पड़ा था।
लोकसभा चुनाव 2019 की खास बातें: जिन कारणों से इस बार का लोकसभा चुनाव याद रखा जाएगा, उसमें सबसे ऊपर है नेताओं के बयानों का गिरता स्तर। खासतौर पर देश के प्रधानमंत्री के खिलाफ जिस तरह के शब्दों का इस्तेमाल किया गया, वह लोकतंत्र के लिए शर्मसार करने वाला रहा। हालांकि चुनाव आयोग ने भी इस बार जबरदस्त काम किया। जिस तरह ताबड़तोड़ कार्रवाई की गई और अनाप-शनाप बयान देने वाले नेताओं को प्रचार पर पाबंदी लगाई गई, वह अभूतपूर्व रही।
मध्यप्रदेश की भोपाल सीट पर पूरे देश की नजर रही। यहां कांग्रेस के दिग्विजय सिंह के खिलाफ भाजपा ने साध्वी प्रज्ञा सिंह को उतारा। यहां तक कहा गया कि यह देश के इतिहास का सबसे ज्यादा पोलराइज इलेक्शन रहा। कांग्रेस की ओर से प्रियंका गांधी की राजनीति में आधिकारिक एंट्री इसी चुनाव में हुई। वहीं बंगाल की हिंसा भी देशभर में चर्चा में रही।

No comments:

Post a Comment

Pages