12 अप्रैल को ताई का जन्मदिन, संगठन चाहे तो 75 पार के फॉर्मूले में फिट, नहीं तो बाहर - .

Breaking

Tuesday, 2 April 2019

12 अप्रैल को ताई का जन्मदिन, संगठन चाहे तो 75 पार के फॉर्मूले में फिट, नहीं तो बाहर

12 अप्रैल को ताई का जन्मदिन, संगठन चाहे तो 75 पार के फॉर्मूले में फिट, नहीं तो बाहर

आठ बार की सांसद सुमित्रा महाजन के टिकट को लेकर पहली बार भाजपा में असमंजस दिख रहा है। 75 वर्ष पार के फार्मूले के आधार पर संगठन वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी से लेकर मुरली मनोहर जोशी तक के टिकट काट चुका है। विधानसभा चुनाव के बाद टिकट तय मान रहीं महाजन ने भले ही कार्यकर्ताओं की बैठक और चुनाव अभियान शुरू कर दिया है, लेकिन टिकट की शिकन साफ दिख रही है। 12 अप्रैल को सांसद का जन्मदिन है। यह तारीख चुनाव में खास हो गई है। संगठन चाहे तो 75 के फार्मूले में फिट कर ताई का टिकट काट दे या चाहे तो गली निकाल कर राहत दे दे। महाजन का घर और गढ़ भले ही इंदौर हो लेकिन रिकॉर्ड के अनुसार उनका जन्म 12 अप्रैल 1943 को महाराष्ट्र के चिपलूण में हुआ था। इस लिहाज से 10 दिनों बाद वे 76वां जन्मदिन मनाएंगी। ताई के करीबी तर्क दे रहे हैं कि संगठन ने घोषणा की थी कि 75 वर्ष से ज्यादा उम्र वाले नेताओं को टिकट नहीं दिया जाएगा 

यह है तकनीकी पहलू :- ताई का टिकट 12 अप्रैल से पहले तय कर दिया जाता है तो वे 76वें वर्ष में प्रवेश करने से दूर रहेंगी। ऐसे में उनके टिकट पर तकनीकी आपत्ति नहीं हो सकती। दूसरा पक्ष कह रहा है कि ताई ने 75वीं वर्षगांठ बीते साल ही मना ली है। इस 12 अप्रैल को वे 75 वर्ष पार कर लेंगी। इंदौर सीट के लिए नामांकन दाखिल करने की आखिरी तारीख 29 अप्रैल तक है। ऐसे में संगठन यदि ताई को टिकट नहीं देने का मन बनाना चाहता है तो 12 अप्रैल के बाद ही इंदौर का नाम तय किया जाएगा। ऐसे में ताई 75 वर्ष का पड़ाव पार कर चुकी होंगी और वरिष्ठ नेताओं का उदाहरण देकर उनका नाम भी सूची से काटना संगठन के लिए आसान होगा।

No comments:

Post a Comment

Pages