होली के दिन युवक की हत्या, पानी को लेकर हुआ था विवाद - .

Breaking

Sunday, 24 March 2019

होली के दिन युवक की हत्या, पानी को लेकर हुआ था विवाद

Bhopal Crime: होली के दिन युवक की हत्या, पानी को लेकर हुआ था विवाद

गर्मी शुरू होते ही राजधानी में पानी को लेकर विवाद की स्थिति बनने लगी है। इसी क्रम में पानी को लेकर चल रहे झगड़े में समझाइश देने पहुंचे युवक की चाकू मारकर हत्या कर दी गई। घटना होली के दिन गुरुवार शाम को बागसेवनिया इलाके में हुई। पुलिस ने कत्ल के आरोप में एक महिला सहित दो लोगों को गिरफ्तार कर लिया है।
बागसेवनिया पुलिस के मुताबिक दीक्षा नगर निवासी मुकेश पुत्र रामप्रसाद मालवीय (32) हैंडलूम के कपड़ों का व्यवसाय करता था। उसके घर के सामने किराए से मंजू पत्नी किसन मालवीय (30) रहती है। किसन पुताई का काम करता है। जिस मकान में मंजू रहती है, उसी में किराए से दिनेश मालवीय भी अपने परिवार के साथ रहता है। बुधवार को पानी भरने को लेकर मंजू का पड़ोसी दिनेश की पत्नी से विवाद हो गया था। दोनों पक्षों के बीच गाली गलौज होने पर आस पड़ोस के लोग पहुंचे थे और दोनों पक्षों को समझा बुझाकर शांत करा दिया था। गुरुवार को दिन भर मोहल्ले के लोगों ने होली खेली। शाम के वक्त दिनेश की पत्नी ने घर के सामने फर्श पर पड़े रंग को साफ करने के लिए पानी डाल दिया था। वहां पानी पड़ा देख मंजू ने दिनेश की पत्नी से गाली गलौज शुरू कर दी।

समझाने पहुंचा था मुकेश :- त्यौहार के दिन गाली गलौज सुनकर मुकेश, मंजू और दिनेश के परिवार के लोगों को समझाने पहुंचा था। यह बात मंजू को नागवार गुजरी। मंजू ने फोन कर बागसेवनिया में रहने वाले अपने परिचित आशीष गिरी (19) को बुला लिया। कुछ ही देर बाद आशीष अपने दोस्त जागेश के साथ वहां पहुंच गया। मुकेश ने जब उन लोगों को समझाने की कोशिश की तो आशीष और जागेश ने मुकेश के साथ झूमाझटकी शुरू कर दी। तैश में आकर मुकेश ने जागेश को एक तमाचा मार दिया था।  

जीप से पहुंचे और पेट में घोंप दिया चाकू :- थप्पड़ लगने की बात जागेश ने फोन पर अपने भाई योगेश को दी। योगेश उस समय अशोका गार्डन इलाके में अपने दोस्त सफाई ठेकेदार दीपक वैद्य, हेमराज परते, रवि आदि के साथ बैठकर शराब पी रहा था। भाई के पिटने की बात सुनकर सभी दीपक की जीप से दीक्षा नगर पहुंचे। जीप से उतरते ही योगेश ने पूछा कि मुकेश कौन है, मंजू ने इशारे से बताया। सभी ने मिलकर मुकेश के साथ मारपीट शुरू कर दी। इस दौरान मुकेश के पेट में चाकू घोंपकर वे लोग वहां से भाग निकले। चाकू मुकेश के पेट में फंस गया था।

अस्पताल ले जाने के लिए परिजनों ने जैसे ही जोर लगाकर चाकू बाहर खींचा, मुकेश के पेट से अंतड़ियां बाहर निकल आईं। उसी हालत में मुकेश को नजदीक के एक निजी अस्पताल ले जाया गया। वहां डॉक्टर ने मुकेश को मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने हत्या के आरोप में मंजू और अशीष का गिरफ्तार कर फरार आरोपितों की तलाश शुरू कर दी है।

No comments:

Post a Comment

Pages