21 साल से फरार था दुष्‍कर्म का आरोपित, महिला टीआई ने ऐसे पकड़ा - .

Breaking

Tuesday, 5 March 2019

21 साल से फरार था दुष्‍कर्म का आरोपित, महिला टीआई ने ऐसे पकड़ा

21 साल से फरार था दुष्‍कर्म का आरोपित, महिला टीआई ने ऐसे पकड़ा

कल्याणपुरा थाना क्षेत्र के गांव नवापाड़ा भंडारिया में 23 सितंबर 1998 को चर्च में हुए नन दुष्कर्म कांड के 21 साल से फरार एक आरोपित को पुलिस ने सोमवार को गिरफ्तार कर लिया। मामले में 26 आरोपितों में से दो फरार थे। एक अभी भी फरार है। नौ दोषियों को आजन्म कारावास की सजा हो चुकी है और एक को पांच साल की। एक आरोपित की मौत हो गई और 13 को कोर्ट बरी कर चुकी है। फरार आरोपित कालू पिता लीमजी निनामा निवासी ढेबर छोटी, कालीदेवी थानाक्षेत्र के गांव आम्बा में कच्चा मकान बनाकर रह रहा था। कल्याणपुरा पुलिस को मुखबिर से सूचना मिलने पर थाना प्रभारी गीता सोलंकी जिला पंचायत की आवास योजना की अधिकारी बनकर आम्बा पहुंची।

यहां लोगों से पूछा कि किस-किस को मकान नहीं मिला है। कुछ देर में फरार आरोपित वहां आ पहुंचा। तस्दीक होते ही अपनी टीम के साथ उसे गिरफ्तार कर लिया। कालू ने पुलिस को बताया कि वह घटना के बाद से गुजरात के कच्छ और भुज में मजदूरी कर रहा था। पिछले साल ही यहां आया। एक अन्य फरार आरोपित बच्चू पिता नाहरसिंह भील निवासी जुलवानिया के भी वहीं होने की बात बताई।
एसपी विनीत जैन ने बताया कि कालू के खिलाफ 28 दिसंबर 1998 को फरारी वारंट जारी किया गया था। वह 20 साल से अधिक समय से फरार था। मंगलवार को आरोपित को कोर्ट में प्रस्तुत किया गया। एसपी ने थाना प्रभारी गीता सोलंकी, प्रधान आरक्षक राधेश्याम जाटवा और आरक्षक रवि चौहान को पुरस्कृत करने की घोषणा की। आरोपित जगह बदलकर रह रहा था। 

ऐसे किया गिरफ्तार :- टीआई गीता सोलंकी ने बताया कि मुखबिर से कालू के गांव आम्बा में होने की सूचना मिली। पहले उसका रिकॉर्ड देखा गया तो पता चला थाने के अपराध क्रमांक 193/1998 में वह फरार है। प्रकरण गंभीर किस्म का था, इसलिए फौरन उसे पकड़ने की योजना बनाई गई।

नवापाड़ा का नन कांड उस समय काफी चर्चित रहा था। घटना की रात करीब दो दर्जन आरोपितों ने नवापाड़ा भंडारिया के चर्च पर हमला बोला था। यहां लूटपाट की और रह रही चार ननों के साथ सामूहिक दुष्कर्म किया था। इस घटना के बाद यहां दिल्ली, भोपाल सहित कई जगह से टीमें आई थी। अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भी इसे लेकर चर्चा हुई थी। ऐसे में त्वरित कार्रवाई कर आरोपितों को पकड़ा गया था।

No comments:

Post a Comment

Pages