Lok Sabha Election में भाजपा MP की 29 सीटें जीतेगी - .

Breaking

Saturday, 2 February 2019

Lok Sabha Election में भाजपा MP की 29 सीटें जीतेगी

Lok Sabha Election में भाजपा MP की 29 सीटें जीतेगी : स्वतंत्र देव

'मैं मप्र में 10-15 दिन से घूम रहा हूं। मुझे देखने को मिला है कि पहली बार जनता में शिवराज सरकार के जाने का गम है। 15 साल पहले दिग्विजय सिंह की सरकार जाने पर जनता होली-दीपावली जैसा जश्न मना रही थी। 2019 के लोकसभा चुनाव में मप्र की जनता इसका बदला मोदीजी को जिताकर लेगी और हम प्रदेश की 29 लोकसभा सीटें जीतेंगे।' यह बात उप्र के परिवहन मंत्री और मप्र लोकसभा चुनाव के प्रभारी स्वतंत्र देव सिंह ने शुक्रवार को चर्चा में कही। उन्होंने भाजपा के तीनों विधायकों से भी मुलाकात की। उन्होंने बताया कि भाजपा सरकार शुरू से ही किसानों की शुभचिंतक रही है। सरकार किसानों के लिए किसान क्रेडिट योजना लाई। कांग्रेसी हमेशा झूठ बोलते हैं। जो यह महागठबंधन बन रहा है, उनका उद्देश्य सिर्फ लूटना है। भाजपा एक मिशन और विचारधारा के लिए राजनीति करती है। मप्र में पूर्व मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान के कद घटने के सवाल पर वे बोले कि इस राज्य के नेता शिवराज हैं।

प्रदेश संगठन स्तर पर आगामी चुनाव के लिए रणनीति बनाई जा रही है। शिवराज के साथ कैलाश विजयवर्गीय, नरेंद्रसिंह तोमर व प्रभात झा की लोकप्रियता को देखते हुए उन्हें जिम्मेदारी दी जा रही है। चुनाव के मद्देनजर भाजपा के होने वाले कार्यक्रमों की भी सिंह ने जानकारी दी। बजट को लेकर सिंह ने बताया कि ये बजट विकास को समर्पित बजट है और गरीबों का बजट है। व्यापारी, किसान और गरीब वर्ग को ध्यान में रखकर बजट बनाया गया है। यह राष्ट्र के सम्मान का बजट है।
भाजपा के होने वाले कार्यक्रम

- फरवरी में प्रत्येक लोकसभा क्षेत्र में सम्मलेन होगा जिसमें बूथ समिति के कार्यकर्ता शामिल होंगे।
- 12 फरवरी को चार लोकसभा को मिलाकर एक युवा संसद का आयोजन किया जाएगा। मप्र को 10 क्लस्टर में बांटकर आयोजन होगा।

- 23, 24 फरवरी को गोरखपुर में किसान मोर्चा का अधिवेशन होगा और तीन दिन प्रदेश में 'गांव चलो' अभियान के तहत 'गांव कुंभ' का आयोजन होगा।
- 23 फरवरी को युवा टाउन हॉल नई दिल्ली में प्रधानमंत्री मोदी संबोधित करेंगे और सभी विधानसभा व जिलों में स्क्रीन पर लाइव दिखाया जाएगा।

- दो मार्च को सभी विधानसभा क्षेत्रों में बाइक रैली निकाली जाएगी।
- 11 फरवरी को पं दीनदयाल उपाध्याय की पुण्यतिथि के मौके पर गांव व बूथ स्तर पर परिचर्चा की जाएगी। इसे 'समर्पण दिवस' के रूप में मनाया जाएगा।

No comments:

Post a Comment

Pages