इंदौर से अपहृत बच्‍चा सागर जिले से बरामद, अपहर्ताओं ने मांगे थे दस लाख - .

Breaking

Monday, 11 February 2019

इंदौर से अपहृत बच्‍चा सागर जिले से बरामद, अपहर्ताओं ने मांगे थे दस लाख

इंदौर से अपहृत बच्‍चा सागर जिले से बरामद, अपहर्ताओं ने मांगे थे दस लाख

शहर से अपहृत 6 साल के बच्‍चे को पुलिस ने सागर जिले से बरामद कर लिया गया है। कल बच्चों के साथ बगीचे में खेल रहे 6 साल के बच्चे का दिनदहाड़े अपहरण हो गया था। बदमाशों ने 10 मिनट बाद ही बच्चे के पिता को कॉल कर दिया और रिहाई के एवज में 10 लाख की फिरौती मांग ली थी। पुलिस को दो बदमाशों के फुटेज मिले थे। इसके बाद पुलिस मोबाइल नंबर और फुटेज के आधार पर आरोपितों की तलाश कर रही थी।
सागर के पुलिस अधीक्षक बच्‍चे को बाइक सवार दो लोगों ने बच्‍चे को छोड़ा है। बच्‍चा सकुशल है। पूरे जिले की नाकेबंदी कर दी गई है। बच्‍चे को बड़ोदिया थाना क्षेत्र में छाेड़ा गया है। बताया जाता है कि बच्‍चे को उत्‍तरप्रदेश्‍ा के ललितपुर लेकर जाने की योजना थी। अपहरण में उत्‍तरप्रदेश के भी बदमाश शामिल बताए जा रहे  पुलिस ने कल ही करीब पांच लोगों को हिरासत में लेकर उनसे गहन पूछताछ आरंभ कर दी थी। इसके बाद रात को ही पुलिस के हाथ कुछ सूत्र लगे इसके बाद ही बच्‍चे को बरामद किया गया। घटना हीरानगर थाना क्षेत्र स्थित प्राइम सिटी कॉलोनी में हुई थी। किराना व्यवसायी रोहित जैन का 6 वर्षीय बेटा अक्षत(डूगू) घर के 10 फीट दूरी पर बने बगीचे में खेल रहा था। रोहित की प्राइम पॉइंट के नाम से किराना दुकान है। उन्होंने हाल ही में प्रॉपर्टी खरीदने बेचने का व्यवसाय भी शुरु किया था।

रोहित ने पुलिस को बताया अक्षत रोजना की तरह दोपहर करीब 2 बजे खेलने गया था। करीब 3.10 बजे उनके पास एक बदमाश का कॉल आया। उसने कहा तुम्हारा बच्चा हमारे पास है। 10 लाख रुपए की व्यवस्था कर लेना। मैं शाम को दोबारा कॉल करुंगा। रोहित घबरा गया और तुरंत पत्नी शिल्पा को अक्षत को ढूंढने भेजा। बच्चे के अपहरण की सूचना से कॉलोनी में सनसनी फैल गई थी।आज मंत्री जीतू पटवारी भी बच्‍चे के घर पहुंचे थे।

किराने वाला का बच्चा कौन है, उसको दादी ने बुलाया है :- प्रत्य क्षदर्शी बच्चों ने पुलिस को बताया बाइक पर दो बदमाश आए थे। एक ने चहरे पर मास्क लगा पहन रखा था। उसने कहा किराने वाले का बच्चा कौन है। उसको उसकी दादी ने बुलाया है। बच्चा खेलते हुए बाइक सवारों के पास आ गया और बदमाश उसे उठा कर ले गए। कुछ देर बाद बदमाशों ने रोहित को फोन लगा दिया। जब रुपयों की मांग की तब अक्षत के रोने की आवाज भी आ रही थी। रोहित ने तत्काल दोस्त भूषण को बुलाया और थाने पहुंच गए। पुलिस ने तत्काल अपहरण का केस दर्ज किया और कंट्रोल रुम से प्रसारण करवा कर पूरे शहर में नाकाबंदी करवा दी।

No comments:

Post a Comment

Pages