इस साल स्वाइन फ्लू से 35 की मौत, मंत्री ने दी निजी अस्पतालों को यह चेतावनी - .

Breaking

Thursday, 21 February 2019

इस साल स्वाइन फ्लू से 35 की मौत, मंत्री ने दी निजी अस्पतालों को यह चेतावनी

Madhya Pradesh में इस साल स्वाइन फ्लू से 35 की मौत, मंत्री ने दी निजी अस्पतालों को यह चेतावनी

इस साल अब तक 167 लोग स्वाइन फ्लू की चपेट में आए हैं। इनमें 35 की मौत हो गई है। इस संबंध में विधानसभा में एक ध्यानाकर्षण लगने के बाद सरकार में हड़कंप मच गया है। मुख्यमंत्री कमलनाथ ने गुरुवार को स्वाइन फ्लू को लेकर समीक्षा की। उन्होंने अफसरों से पूछा कि स्वाइन फ्लू से इतनी मौतें हो रही हैं, इसकी वजह संसाधनों की कमी तो नहीं है। उन्होंने आश्चर्य जताया कि इंदौर, ग्वालियर, रीवा और सागर में वायरोलॉजी लैब स्वीकृत होने के बाद भी जांच की सुविधा शुरू क्यों नहीं हो पाई है। मुख्यमंत्री ने कहा कि इंदौर में स्वाइन फ्लू से मौतों का आंकड़ा लगातार बढ़ रहा है, इसलिए यहां पर जल्द जांच की सुविधा शुरू की जाए।

इधर, स्वास्थ्य मंत्री तुलसी सिलावट गुरुवार को विधानसभा से सीधे शहर के बंसल व नेशनल अस्पताल पहुचें। यहां मरीजों से बात की। स्वाइन फ्लू वार्ड, उपकरण, मास्क व दवाओं के बारे में जानकारी ली। राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन (एनएचएम) के डायरेक्टर डॉ. बीएन चौहान ने मंत्री को बताया कि कुछ निजी अस्पताल गरीब मरीजों को भर्ती नहीं कर रहे हैं।
इस पर मंत्री ने अस्पतालों के निरीक्षण के दौरान डॉक्टरों से कहा कि सरकार स्वाइन फ्लू की दवाएं, जांच की सुविधा, जांच किट उपलब्ध करा रही है। फिर मरीजों का इलाज करने में उन्हें क्या परेशानी है। मंत्री ने भर्ती मरीजों से बात की। उन्होंने स्वास्थ्य विभाग के अफसरों से कहा कि स्वाइन फ्लू के इलाज में लापरवाही सामने आने पर अस्पताल की मान्यता समाप्त की जाए। मंत्री ने स्वास्थ्य विभाग के अफसरों से हर दिन जिलेवार स्वाइन फ्लू मरीजों की जानकारी भेजने को कहा हैै।
निजी अस्पतालों की जांच शुरू :- स्वास्थ्य मंत्री के निर्देश पर सभी जिलों में निजी अस्पतालों की जांच स्वास्थ्य विभाग के अफसर व विशेषज्ञ कर रहे हैं। भोपाल में संभागीय संयुक्त संचालक डॉ. मोहन सिंह, सीएमएचओ डॉ. एनयू खान व हमीदिया अस्ताल के छाती एवं श्वास रोग विशेषज्ञ डॉ. लोकेन्द्र दवे ने नेशनल, सिल्वर लााइन, हमीदिया, मिरैकल आदि अस्पतालों का निरीक्षण किया। सीएमएचओ के मुताबिक सभी जगह व्यवस्थाएं दुरुस्त मिली हैं।

No comments:

Post a Comment

Pages