एक हफ्ते में WagonR, Harrier समेत चार नई कारों की होगी लॉचिंग - .

Breaking

Friday, 18 January 2019

एक हफ्ते में WagonR, Harrier समेत चार नई कारों की होगी लॉचिंग

एक हफ्ते में WagonR, Harrier समेत चार नई कारों की होगी लॉचिंग

कार उद्योग का अपना हिसाब-किताब होता है। जब बाजार में गाड़ियां बिकनी कम हो जाती हैं तो कार कंपनियां एक के बाद एक नई कारें लांच करती हैं। इस बार भी ऐसा हो रहा है। इस महीने में ही पांच नई कारें पेश किए जाने को तैयार हैं। इसकी शुरुआत शुक्रवार को टोयोटा की नई कैमरी से होगी। लेकिन बाजार में मारुति सुजुकी, मर्सिडीज बेंज, निसान और टाटा मोटर्स की नई कारें भी लांच होने को तैयार है। इसके बाद ह्युंडई व दूसरी कार कंपनियां भी नए उत्पाद के साथ बाजार में बिक्री बढ़ाने की कोशिश करेंगी।

अभी बाजार में जिस वाहन का सबसे ज्यादा इंतजार हो रहा है वह टाटा मोटर्स की हैरियर। यह तीन एसयूवी लांच करने की टाटा मोटर्स की तैयारियों के तहत लांच की जाने वाली अंतिम एसयूवी होगी। इसकी कीमत 12-18 लाख रुपये होगी। इसके बाद मारुति सुजुकी की नई वैगन-आर को लेकर बाजार में चर्चा गर्म है। मध्यम वर्ग की सबसे पसंदीदा कारों में एक वैगर-आर का नया अवतार अगले बुधवार को लांच होने वाला है।
कीमत संभवतः चार से छह लाख रुपये के बीच होगी। वैसे मारुति इस वर्ष दो नई कारें भी लांच करने जा रही है। कंपनी अगले दो वर्षों में आधा दर्जन नए मॉडल उतारने को तैयार है। मारुति की प्रतिद्वंदी कंपनी ह्युंडई की नई मिड सेग्मेंट एसयूवी को लांच करने की तैयारियां अंतिम चरण में है लेकिन जानकारों का मानना है कि यह संभवतः फरवरी या मार्च में होगा। निसान की कांपैक्ट एसयूवी किक्स की लांचिंग मंगलवार को होगी। यह ह्युंडई की क्रेटा, मारुति की एस-क्रॉस से मुकाबला करेगी। साथ ही भारतीय बाजार में निसान की मौजूदगी मजबूत करने में मदद करेगी। इन कंपनियों की तैयारियों को देख कर साफ है कि भारतीय कार बाजार में अभी एसयूवी का ही बोलबाला रहेगा।
अगर सभी कंपनियों की तैयारियों को देखे तो अगले दो वर्षों के दौरान तकरीबन 20 नई एसयूवी लांच करने की तैयारी है। अभी देश में जितनी कारें बिकती हैं उनमें एसयूवी की हिस्सेदारी 30 फीसद के करीब है। सोसाइटी ऑफ इंडियन आटोमोबाइल मैन्यूफैक्चरर्स के आंकड़ों के मुताबिक जुलाई, 2018 के बाद से लगातार पांच महीनों तक देश मे पैसेंजर कारों की बिक्री घटी है। त्योहारी मौसम में भी कारों की बिक्री में कोई इजाफा नहीं हुआ है। पेट्रोल व डीजल की कीमतों में वृद्धि के अलावा कर्ज मिलने में आ रही दिक्कतों की वजह से बिक्री पर असर पड़ने की बात कही जा रही है।

No comments:

Post a Comment

Pages