बर्फीली हवाओं से फिर ठिठुरा मध्‍यप्रदेश, इंदौर, उज्‍जैन और रतलाम में स्‍कूलों की सोमवार को छुट्टी - .

Breaking

Sunday, 27 January 2019

बर्फीली हवाओं से फिर ठिठुरा मध्‍यप्रदेश, इंदौर, उज्‍जैन और रतलाम में स्‍कूलों की सोमवार को छुट्टी

बर्फीली हवाओं से फिर ठिठुरा मध्‍यप्रदेश, इंदौर, उज्‍जैन और रतलाम में स्‍कूलों की सोमवार को छुट्टी

उत्तर भारत के पहाड़ी क्षेत्रों में जबरदस्त बर्फबारी के साथ ही हवा का रुख लगातार उत्तरी बना हुआ है। बर्फीली हवाओं के कारण मध्य प्रदेश फिर ठिठुरने लगा है। प्रदेश में सबसे कम न्यूनतम तापमान तीन डिग्री सेल्सियस श्योपुर में दर्ज किया गया। मौसम विज्ञानियों ने ग्वालियर-चंबल, सागर, उज्जैन और इंदौर संभाग के जिलों में शीतलहर की चेतावनी जारी की है। इंदौर और रतलाम कलेक्‍टर ने शीतलहर की वजह से स्‍कूलों में अवकाश की घोषणा कर दी है। इंदौर में आठवीं तक के बच्‍चों की छुट्टी रहेगी। उज्‍जैन में भी आठवीं तक के सभी शासकीय और अशासकीय स्कूलों में अवकाश घोषित कर दिया गया है।

रतलाम से मिली खबर के अनुसार शीतलहर के कारण जिले के सभी शासकीय अशासकीय स्कूलों में 28 जनवरी को अवकाश रहेगा। कलेक्टर रुचिका चौहान ने बताया कि विद्यार्थियों को परेशानी से बचाने के लिए 28 जनवरी को सभी स्कूलों की पहली से लेकर 12वीं कक्षाओं के विद्यार्थियों के लिए कक्षाएं संचालित नहीं होंगी। मौसम विज्ञान केंद्र के मुताबिक उत्तर भारत में बर्फबारी के साथ ही पिछले दिनों प्रदेश के कुछ स्थानों पर बररसात होने के साथ ही हवा का रुख उत्तरी बना हुआ है। हवा की रफ्तार भी करीब 15 किमी. प्रति घंटा बनी हुई है। इससे पूरे प्रदेश में कुछ स्थानों पर दिन और रात के तापमान में तेजी से गिरावट होने लगी है।
भोपाल में सीजन का पहला सबसे ठंडा दिन :- राजधानी में रविवार को न्यूनतम तापमान 7.5 डिग्री दर्ज हुआ, जो सामान्य से चार डिग्री कम रहा। इसी तरह अधिकतम तापमान 19.2 डिग्री रिकॉर्ड हुआ, जो सामान्य से सात डिग्री कम है। इस तरह रविवार भोपाल में सीजन का पहला सबसे ठंडा दिन रहा।
शाजापुर में जमी ओस की बूंदें :- मालवा-निमाड़ क्षेत्र में मौसम के बदले मिजाज से शुक्रवार को लोग घरों में दुबकने को मजबूर हुए। कुछ स्थानों पर न्यूनतम तापमान में दो से पांच डिग्री सेल्सियस गिरावट दर्ज की गई। धार में न्यूनतम तापमान 4.7, देवास पांच और शाजापुर में 5.4 डिग्री सेल्सियस रहा। एक माह पहले दिसंबर के अंतिम दिनों में इसी तरह का वातावरण बना था और हजारों हेक्टेयर क्षेत्र में फसलों को नुकसान पहुंचा था। अब फिर वही हालात बनने से किसान मायूस हैं।
ग्वालियर में चटक धूप के बाद भी सर्द हवा चलने से कांपे लोग :- सर्दी के पलटवार और उत्तरी सर्द हवाओं से पूरा ग्वालियर-चंबल अंचल कड़ाके की ठंड से कांप रहा है। रविवार को सर्द हवाओं की मार इस कदर हावी रही कि दिन में चटक धूप के बावजूद लोगों को ठंड से राहत नहीं मिली। ग्वालियर में न्यूनतम तापमान सामान्य से 2.9 डिसे नीचे 5.3 डिसे तक लुढ़क गया है।
महाकोशल-विंध्य में गिरा पारा :- महाकोशल-विंध्य में शुक्रवार और शनिवार को हुई बारिश के बाद ठंड के साथ गलन भरी सर्दी शुरू हो गई है। दो दिन पहले हुई तेज बारिश व ओलावृष्टि के बाद सर्दी ने जोर पकड़ लिया है। रविवार सुबह भी घना कोहरा व आसमान पर बादल छाए रहे।

No comments:

Post a Comment

Pages