अहमदाबाद का यह अस्पताल लग्जरी होटल से कम नहीं, लगे हैं 600 कैमरे और छत पर हेलीपैड - .

Breaking

Thursday, 17 January 2019

अहमदाबाद का यह अस्पताल लग्जरी होटल से कम नहीं, लगे हैं 600 कैमरे और छत पर हेलीपैड

अहमदाबाद का यह अस्पताल लग्जरी होटल से कम नहीं, लगे हैं 600 कैमरे और छत पर हेलीपैड

तीन दिन के गुजरात दौरे के बीच प्रधानमंत्री मोदी अहमदाबाद में सरदार वल्लभ भाई पटेल इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेस एंड रिसर्च का उद्घाटन कर दिया है। 18 मंजिला इस अस्पताल को बनाने में 750 करोड़ रुपए का खर्च आया है और इसके उद्घाटन के बाद लोगों को उच्चस्तर की मेडिकल सुविधाएं मिलने लगेंगी।  यह राज्य का पहला सरकारी अस्पताल होगा जिसकी छत पर हैलीपेट बना है। इसके अलावा इस अस्पताल में इलाज का खर्च भी बेहद कम होगा। यह राज्य सबसे शानदार सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल होगा। अस्पताल का प्रबंधन अहमदाबाद नगर निगम द्वारा किया जाएगा। यह अस्पताल उद्घाटन के अगले दिन यानी 18 जनवरी से शुरू होगा। इस अस्पताल में क्या खास है? यहां क्या सुविधाएं मिलेंगी? अस्पताल के इलाज के लिए आपको कितना भुगतान करना होगा? आईए हम आपको बताते हैं हर बात
1500 बेड, 750 करोड़ खर्च, किसी होटल से कम नहीं :-  इस अस्पताल की ऊंचाई 78 मीटर है। 18 मंजिला इस अस्पताल में 1500 बेड हैं और छत पर हेलीपैड बनाया गया हैं। यह अस्पताल 170 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से चलने वाली हवाओं और 7.5 तीव्रता के भूकंप बिना डिगे सामना कर सकता है। अस्पताल को आरसीसी और स्टीलफ्रेम के साथ तैयार किया गया है। इस अस्पताल का वजन 4.34 लाख टन है। अस्पताल 14 लाख स्क्वेयर फीट इलाके में बना है जिसमें 1500 लोगों के लिए वेटिंग एरिया है। सुरक्षा के मामले में पूरे अस्पताल में 600 सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं। अस्पताल में 90 ओपीडी परामर्श कक्ष हैं और हर वार्ड में एक मरीज के साथ एक व्यक्ति के लिए बिस्तर व्यवस्था है। अस्पताल के कमरे किसी लग्जरी होटल से कम नहीं है।
इतना आएगा खर्च :-  अस्पताल के जनरल वार्ड में रोजाना 300 रुपए प्रति बेड का खर्च आएगा। इसमें 1300 बेड हैं और इस जगह भर्ती पेशेंट को दिन में तीन बार खाना, चादर बदलने के अलावा नर्सिंग केयर और डॉक्टर की तीन विसिट मिलेंगी। वही यदि आप सामान्य के बजाय एक सुइट कमरा प्राप्त करना चाहते हैं, तो दैनिक 2500 रुपए खर्च करने होंगे। यहां चार बेड के अलावा जनरल वॉर्ड मे मिलने वाली सारी सुविधाएं होंगी लेकिन पेड। डीलक्स रूम के लिए मरीज को 2000 का भुगतान करना होगा। इसमें कुल 196 बेड्स हैं। जनरल वॉर्ड की सारी सुविधाएं होंगी जो पेड होंगी। अर्ध डीलक्स रूम के लिए रु 1500 का चार्ज देना होगा। ओपीडी के लिए शुल्क 100 से 300 होगा। यदि आप फिर से दिखाना चाहते हैं, तो 50 से 200 का शुल्क लगेगा।
ऑपरेशन के भी होंगे अलग चार्ज :-  अस्पताल में ऑपरेशन के लिए भी अलग-अलग श्रेणियां हैं और उस हिसाब से खर्च लगेगा। सामान्य ऑपरेशन और जनरल बेड के लिए 3000 रुपए देने होंगे वहीं स्पेशल बेड के लिए 10 हजार खर्च लगेगा। बड़े ऑपरेशन के लिए बिस्तर का खर्च 5000 रुपए और स्पेशल बेड का खर्च 30 हजार वसूला जाएगा। सुपर मेजर ऑपरेशन में जनरल बेड के लिए 8000 और स्पेशल बेड के लिए आपको 50 हजार का चार्ज देना होगा।
यह भी है खास :-  इस अस्पताल में मेडिक्लेम या कैशलेस की कोई सुविधा नहीं है, लेकिन भविष्य में ये दोनों सेवाएं शुरू हो जाएंगी। हालांकि, अगर मरीज के पास कार्ड या आजीवन कार्ड है, तो मरीज इसका लाभ उठा सकेगा। इसकी घोषणा जल्द ही की जाएगी। अस्पताल में नए एसवीपी अस्पताल में कुल 20 लिफ्ट की व्यवस्था है। प्रत्येक लिफ्ट में 20 लोगों की क्षमता है और एक मंजिल तक पहुंचने में केवल 1 सेकंड का समय लगता है। नवनिर्मित अस्पताल में 32 ऑपरेशन थिएटर हैं। अस्पताल में लगभग 90 ओपीडी परामर्श कक्ष हैं। इसके अलावा, एक प्रवेश कक्ष है जिसमें 1500 लोग बैठ सकते हैं। अस्पताल में बेसमेंट 1 और बेसमेंट 2 में पार्किंग बनाई गई है, जबकि 16 से 16 मंजिलों के लिए एक अलग सुविधा है।

No comments:

Post a Comment

Pages