जन्म से पहले दो माआें ने अपने गर्भ में धारण किया एक ही शिशु आैर बना दिया इतिहास - .

Breaking

Monday, 12 November 2018

जन्म से पहले दो माआें ने अपने गर्भ में धारण किया एक ही शिशु आैर बना दिया इतिहास

जन्म से पहले दो माआें ने अपने गर्भ में धारण किया एक ही शिशु आैर बना दिया इतिहास

लैस्बियन कपल का शिशु  :- अमेरिका में एक लेस्बियन कपल ने एक ही बच्चे को बारी-बारी से अपने गर्भ में रख कर पाला आैर फिर उसे जन्म दिया। डेलीमेल आैर न्यूयाॅर्क पोस्ट की खबरों के अनुसार यह संभवतः दुनिया भर में पहला एेसा बच्चा है जो दो मांआें के गर्भ में पला है। इसीलिए इतिहास का दर्जा दिया जा रहा है। इस दंपत्ति ने अपनी पहली संतान को जन्म देने के लिए आईवीएफ तकनीक की मदद ली है।

कैसे हुआ संभव   :- इस एेतिहासिक चिकित्सीय कमाल को वास्तविक बनाने के लिए जोड़े में से एक महिला के अंडाणु को लेकर प्रयोगशाला में एक डोनर के स्पर्म के साथ विकसित किया गया। इसके बाद जब भ्रूण बन गया तो उसे एक महिला के गर्भ में स्थानांतरित किया गया। कुछ समय बात यही भ्रूण दूसरी महिला के गर्भ में रखा गया आैर निश्चित समय पर उसने संतान को जन्म दिया। 
ये है इनकी कहानी :- छह साल तक एक दूसरे को डेट करने के बाद ऐश्ले और ब्लिस कॉल्टर नाम की इन दो महिलाआें ने जून 2015 में शादी की थी। दोनो ही अपनी संतान को जन्म दे कर मां बनने का सुख लेना चाहती थीं पर लेस्बियन होने के कारण वे गर्भ धारण नहीं कर सकती थीं। तब उन्होंने आर्इवीएफ तकनीक का सहारा लिया। इसके बाद ब्लिस जो 36 साल की हैं उन्होने फर्टिलाइज करने के लिए अपना अंडाणु दिया। भ्रूण तैयार होने के बाद उनके गर्भ में रख दिया गया। कुछ समय बीतने पर 28 साल की एेश्ले के गर्भ में इस भ्रूण को स्थानांतरित कर दिया गया आैर इस साल जून में उन्होंने स्टेटसन नाम के बेटे को जन्म दिया। इस पूरी प्रक्रिया में करीब 8500 डॉलर का खर्च आया।  

No comments:

Post a Comment

Pages