योगी आदित्यनाथ पर टिकी भाजपा की नैया, नाथ वोट बैंक से उम्मीद - .

Breaking

Friday, 30 November 2018

योगी आदित्यनाथ पर टिकी भाजपा की नैया, नाथ वोट बैंक से उम्मीद

योगी आदित्यनाथ पर टिकी भाजपा की नैया, नाथ वोट बैंक से उम्मीद

राजस्थान विधानसभा चुनाव में भाजपा की नैया यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ पर टिकी है। तीन दिन तक लगातार प्रचार में जिस तरह से योगी आदित्यनाथ को कांग्रेस को घेरा उसके बाद भाजपा के कई उम्मीदवारों ने अपने यहां योगी की सभा कराने का आग्रह किया है। मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे और भाजपा के रणनीतिकारों को योगी आदित्यनाथ की उपयोगीता का अहसास है । लगातार तीन दिन तक योगी की सभाओं के बाद बदले माहौल को देखते हुए मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने उनसे कुछ और सभाएं करने का आग्रह किया है ।
आसपास के राज्यों से योगी के अनुयायी प्रदेश के विभिन्न विधानसभा क्षेत्रों में पहुंचने लगे है । यूपी से बड़ी संख्या में योगी के अनुयायी भरतपुर और अलवर जिलों में पहुंचे है । इस कारण से ही योगी को खुश करने और उनके वोट बैंक को पक्का करने के लिए ही भाजपा ने फिर से सत्ता में आने पर गुरु गोरखनाथ की जीवनी को राजस्थान पाठ्य पुस्तक मंडल की पुस्तकों में शामिल करने का वादा किया है । गोरखनाथ के प्राचीन योग को पुस्तकों में छात्रों को पढ़ाने और योगाभ्यास कराने का वादा भी किया गया है । भाजपा के संकल्प पत्र में गुरु गोरखनाथ के सम्मान के लिए उनका राष्ट्रीय स्मारक भी बनाने और उनके पुराने योग और तंत्र के ग्रंथों को रखने के लिए लाईब्रेरी की स्थापना का वादा किया है ।
वोट बैँक पर नजर :- गुरु गोरखनाथ से जुड़े नाथ संप्रदाय के मठ (गद्दी) बीकानेर से लेकर बाड़मेर और जालोर सहित कई जिलों में है। उनके अनुयायियों की संख्या भी काफी अधिक है। नाथ संप्रदाय का पश्चिम राजस्थान में अच्छा खास प्रभाव है । इसी असर को देखते हुए गुरु गोरखनाथ के सम्मान के साथ संकल्प पत्र में जोड़ा गया कि नाथ समाज के मठों और आसनों का पुनरोद्धार और जीर्णोद्धार कराया जाएगा । दरअसल,भाजपा की मतदान से पहले ध्रुवीकरण की उम्मीद सिर्फ आदित्यानाथ योगी पर टिकी है। योगी की सभाएं मुस्लिम बहुल और नाथ संप्रदाय के असर वाले इलाकों में कराई जा रही है।

No comments:

Post a Comment

Pages