छिंदवाड़ा में अंधे कत्‍लों का पर्दाफाश, पांच लाख रुपए देकर कराई थी पिता-पुत्र की हत्या - .

Breaking

Tuesday, 6 November 2018

छिंदवाड़ा में अंधे कत्‍लों का पर्दाफाश, पांच लाख रुपए देकर कराई थी पिता-पुत्र की हत्या

छिंदवाड़ा में अंधे कत्‍लों का पर्दाफाश, पांच लाख रुपए देकर कराई थी पिता-पुत्र की हत्या

बिछुआ थाने के ग्राम केकड़ा में हुए दो अंधे कत्लों का पुलिस ने पर्दाफाश किया है। गांव के ही एक व्यक्ति ने तंत्र-मंत्र के संदेह में दो साल पहले 2 लाख 35 हजार की सुपारी देकर कथित तांत्रिक और एक सप्ताह पहले 3 लाख रुपए की सुपारी देकर तांत्रिक के बेटे की हत्या कराई थी। इनमें से पिता की हत्या को परिजन और पुलिस दो साल से महज दुर्घटना मान रहे थे। पुलिस ने तीन आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया। सुपारी देने वाला अभी फरार है।
गौरतलब है कि 31 अक्टूबर को ग्राम केकड़ा निवासी ग्राम केकड़ा निवासी बृजकिशोर पाटिल का शव बिछुआ-छिंदवाड़ा रोड पर मिला था। शव पर धारदार हथियार से वार के निशान थे। चौरई एसडीओपी अशोक चौरसिया के मुताबिक जांच में पता चला कि वर्ष 2016 में बृजकिशोर पाटिल के पिता नब्बूलाल पाटिल की भी सुनसान स्थान पर हत्या हुई थी, जबकि परिजन और पुलिस उसे महज सड़क दुर्घटना में मौत होना मान रहे थे। नब्बूलाल कथित रूप से तंत्र-मंत्र कर लोगों को बीमार कर देता था। गांव के निवासी श्रीराम गजभिये और उसकी पत्नी मानतीबाई बीमार रहते थे। श्रीराम को संदेह था कि नब्बूलाल ने ही तंत्र-मंत्र से उन दोनों को बीमार कर दिया।
तब श्रीराम गजभिये ने ग्राम लालगांव निवासी रमेश गज्जाम और अनिल उईके को 2 लाख 35 हजार रुपए सुपारी देकर नब्बूलाल की हत्या करने को कहा था। दोनों आरोपितों ने 29 जुलाई 2016 को नब्बूलाल की हत्या कर दी थी। इसके बाद भी मानतीबाई एवं श्रीराम ठीक होने की बजाय और बीमार होते गए। फिर श्रीराम को शक हुआ कि नब्बूलाल का बेटा बृजकिशोर पाटिल भी तंत्र-मंत्र कर उन्हें बीमार कर रहा है।

इसी शक में श्रीराम गजभिये ने अनिल उईके और अुर्जन डोंगरवार को 3 लाख रुपए सुपारी देकर बृजकिशोर पाटिल की हत्या करने को कहा। जिस पर दोनों आरोपितों ने 31 अक्टूबर को बृजकिशोर की हत्या की थी। पुलिस ने तीन आरोपितों अनिल उईके, रमेश गज्जाम और अर्जुन डोंगरवार को गिरफ्तार कर लिया। उन पर हत्या का केस दर्ज किया गया है। अब सुपारी देने वाले श्रीराम गजभिये की तलाश की जा रही है। 

No comments:

Post a comment

Pages