छतरपुर में गाड़ी से 2 करोड़ 45 लाख मिले तो सीहोर में BMW से 7 लाख 20 हजार नगद जब्त - .

Breaking

Saturday, 3 November 2018

छतरपुर में गाड़ी से 2 करोड़ 45 लाख मिले तो सीहोर में BMW से 7 लाख 20 हजार नगद जब्त

छतरपुर में गाड़ी से 2 करोड़ 45 लाख मिले तो सीहोर में BMW से 7 लाख 20 हजार नगद जब्त

चुनाव आचार संहिता में बरती जा रही सख्ती का असर दिखाई दे रहा है। जिला प्रशासन द्वारा बनाए गए निगरानी दल और उड़नदस्ते ने छतरपुर और सीहोर में बड़ी कैश बरामद किए। छतरपुर में जहां 2 करोड़ 45 लाख मिले, वहीं सीहोर में 7 लाख 20 हजार रुपए कैश मिला।
जानकारी के मुताबिक छतरपुर में पुलिस ने वाहन चेकिंग के दौरान बड़ी कार्रवाई की। मध्यप्रदेश और उत्तर प्रदेश सीमा के बीच स्थित देवरी बांध के पास पुलिस ने एक गाड़ी से 2 करोड़ 45 लाख रुपए बरामद किए। पुलिस ने ये मामला इनकम टैक्स विभाग को सौंपा है। दरअसल आचार संहिता के चलते पुलिस और प्रशासन बेहद सख्ती बरत रहे हैं। पुलिस टीम देवरी बांध पर छतरपुर सीमा में वाहनों की चेकिंग कर रही थी, इस दौरान झांसी की ओर से आ रही दिल्ली पासिंग एक गाड़ी को रोककर चेकिंग की गई तो गाड़ी में 2 करोड़ 45 लाख रुपए मिले।
गाड़ी चलाने वाले युवक आशीष यादव निवासी झांसी से इतनी बड़ी रकम ले जाने का कारण पूछा गया तो उसने बताया कि वह यह राशि झांसी से उत्तर प्रदेश के राठ बैंक में जमा करने के लिए जा रहा था। शनिवार और रविवार को बैंक अवकाश होने के बावजूद पुलिस ने जब कार चालक से सवाल किए तो वह पुलिस को जवाब नहीं दे पाया।
अलीपुरा थाना प्रभारी राजेश बघेल ने पूरे मामले की जानकारी नौगांव एसडीएम बीबी गंगेले, तहसीलदार बीपी सिंह को दी तो वे भी अलीपुरा थाने पहुंच गए। एसडीएम बीबी गंगेले ने इनकम टैक्स विभाग के अधिकारियों को जानकारी दी है। एएसपी जयराज कुबेर के मुताबिक एसडीएम और तहसीलदार इनकम टैक्स अधिकारियों के साथ जांच कर रहे हैं क्योंकि गाड़ी पर ऑन बैंक ड्यूटी लिखा है। फिलहाल ये जांच की जा रही है कि ये सही है या गलत। उसके बाद कार्रवाई की दिशा तय होगी।
BMW से मिले 7 लाख 20 हजार :- इधर सीहोर में भी एक BMW से चेकिंग के दौरान 7 लाख 20 हजार रुपए बरामद किए गए। चुनाव के मद्देनजर जांच के लिए गठित किए गए उड़नदस्‍ते और निगरानी दल ने सीहोर के फंदा टोल नाके के पास एक BMW गाड़ी से 7 लाख 20 हजार रुपए नगद जब्‍त किए। गाड़ी गुजरात पासिंग थी और उसका नंबर GJ-03 JC 9070 था जो राजकोट गुजरात में भावेश नामक व्यक्ति के नाम से रजिस्टर्ड है। कैश के बारे में जब चालक से पूछा गया तो वो कोई संतोषजनक उत्तर नहीं दे पाया जिससे पूरी रकम जब्त कर ली गई।

No comments:

Post a comment

Pages