झाबुआ में आतिशबाजी की चिंगारी से जल गया रावण का पुतला - .

Breaking

Friday, 19 October 2018

झाबुआ में आतिशबाजी की चिंगारी से जल गया रावण का पुतला

झाबुआ में आतिशबाजी की चिंगारी से जल गया रावण का पुतला

कॉलेज मैदान पर शुक्रवार का रावण दहन में रोचक घटनाक्रम हुआ। तय समय से 20 मिनट पहले ही पुतला जल गया। इंदौर से आई आतिशबाजी करने वाली टीम आतिशबाजी कर रही थी, तभी एक पटाखे से चिंगारी निकलकर पुतले पर चली गई। कोई कुछ समझ पाता तब तक पुतले के नीचे रखी घास ने आग पकड़ ली और अंदर लगे पटाखे फूटने लगे। एक मिनट में ही पुतला जलकर राख हो गया।
इसके जलने के बाद बचे हुए पटाखे छोड़े गए। जब पुतला जला तब तक परंपरानुसार राम, लक्ष्मण और अन्य के रूप धरने वाले कलाकार भी नहीं पहुंचे थे। लोग भी कॉलेज मैदान आ ही रहे थे, लेकिन पहले ही पुतला जल जाने से लोग जाने लगे। इस कारण सड़क पर लंबा जाम लग गया। आधे घंटे तक वाहन और पैदल आने वाले इस जाम में फंसे रहे। नगर परिषद के रावण दहन कार्यक्रम में शुक्रवार शाम रोचक नजारा देखने को मिला। रावण दहन के लिए शाम सात बजे का समय रखा गया। इसके लिए नगर परिषद द्वारा बकायदा मुनादी भी करवाई गई थी। तय स्थान पर शासन-प्रशासन के आला अधिकारी पहुंचे तो पं. शैलेंद्र त्रिपाठी ने दशमी का मुहूर्त सायं 5:58 बजे तक होने की बात कही।

कहा गया कि 5.58 बजे बाद एकादशी तिथि आरंभ हो जाएगी। इस पर आला अधिकारियों ने छह बजे के पूर्व दशानन की विधिवत पूजा की। इसके बाद आतिशबाजी शुरू हुई, तभी अचानक चिंगारी उड़ी और रावण का पुतला जल उठा। गौरतलब है कि गत दो साल से बार-बार दहन करने के बाद भी रावण नहीं जलता था। इस बार एक चिंगारी से दशानन जल उठे। अचानक हुए इस रावण के पुतला दहन से आगंतुकों को काफी निराशा हुई।

No comments:

Post a comment

Pages