सरकारी उपायों के बावजूद रुपए में गिरावट जारी रहने से गिरा शेयर बाजार - .

Breaking

Saturday, 22 September 2018

सरकारी उपायों के बावजूद रुपए में गिरावट जारी रहने से गिरा शेयर बाजार

सरकारी उपायों के बावजूद रुपए में गिरावट जारी रहने से गिरा शेयर बाजार

घरेलू शेयर बाजार में सोमवार को भारी गिरावट दर्ज की गई। इसका सबसे बड़ा कारण यह रहा कि सरकार की तरफ से रुपए की कमजोरी थामने के उपायों की घोषणा के बावजूद घरेलू करेंसी में भारी गिरावट आई। इससे निराशा का माहौल बना। सेंसेक्स 505.13 अंक यानी 1.33 फीसदी गिरावट के साथ 37,585.51 पर बंद हुआ। निफ्टी भी 137.45 अंक या करीब 1.2 फीसदी गिरकर 11,377.75 के स्तर पर रहा। इससे पहले गुरुवार और शुक्रवार को शेयर बाजार में लगातार दो दिन जोरदार तेजी दर्ज की गई थी। बहरहाल, बीएसई के मिडकैप इंडेक्स में 0.75 फीसदी और स्मॉलकैप इंडेक्स में 0.1 फीसदी गिरावट दर्ज की गई। बैंकिंग, फार्मा, एफएमसीजी, ऑटो, कैपिटल गुड्स और कंज्यूमर ड्युरेबल्स शेयर बिकवाली के दबाव में रहे। बैंक निफ्टी 1.25 फीसदी गिरकर बंद हुआ। लेकिन, आईटी और रियल्टी शेयरों में तेजी रही।
बीपीसीएल में 2.6 फीसदी तेजी :- सन फार्मा, भारती इंफ्रा, बजाज फाइनेंस, एचडीएफसी, बजाज फिनसर्व, टाटा मोटर्स, रिलायंस इंडस्ट्रीज और एशियन पेंट्स 2.8-2 फीसदी गिरकर बंद हुए। दूसरी तरफ बीपीसीएल, एचपीसीएल, आयशर मोटर्स, टेक महिंद्रा, पावर ग्रिड, टीसीएस और अडाणी पोर्ट्स की ट्रेडिंग 2.7-0.3 फीसदी बढ़त पर बंद हुई।
सरकारी उपायों का असर बाकी :- सरकार ने चालू खाते के घाटे पर अंकुश लगाने और रुपए में गिरावट थामने के लिए पिछले शुक्रवार को कई उपायों की घोषणा की थी। इनमें मसाला बॉन्ड पर विदहोल्डिंग टैक्स हटाना, एफपीआई (विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों) के लिए नियमों में ढील और गैर-जरूरी आयात पर पाबंदी शामिल हैं। लेकिन, बाजार पर इन घोषणा का असर नजर नहीं आया।
इरकॉन इंटरनेशनल का आईपीओ खुला :- सरकारी कंपनी इरकॉन इंटरनेशनल का आईपीओ खुल गया। कंपनी ने इसके जरिए बाजार से 467 करोड़ रुपए जुटाने का लक्ष्य रखा है। कंपनी ने शेयर के लिए 470-475 रुपए का प्राइस बैंड तय किया है। इस आईपीओ में 19 सितंबर तक निवेश किया जाता है। सरकारी कंपनी होने के नाते बाजार की नजर भी इस आईपीओ पर है।
रुपया 66 पैसे टूटा :- डॉलर के मुकाबले रुपए की विनिमय दर सोमवार को 67 पैसे घटकर 72.51 के स्तर पर आ गई। रुपए की ट्रेडिंग की शुरुआत ही भारी कमजोरी के साथ हुई थी। शुक्रवार को एक यूएस डॉलर की वैल्यू 34 पैसे घटकर 71.85 रुपए रह गई थी।

No comments:

Post a Comment

Pages