भारत में दो साल में दोगुने से ज्यादा हुई अमीरों की संख्या - .

Breaking

Wednesday, 26 September 2018

भारत में दो साल में दोगुने से ज्यादा हुई अमीरों की संख्या

भारत में दो साल में दोगुने से ज्यादा हुई अमीरों की संख्या : रिपोर्ट

अमीर-गरीब के बीच अंतर कम करने की कोशिशों के बीच देश के अमीरों पर जारी हुई ताजा रिपोर्ट अलग ही तस्वीर बयां कर रही है। बारक्लेज-हुरुन इंडिया के मुताबिक, देश में दो साल में ऐसे लोगों की तादाद दोगुने से भी ज्यादा हो गई है, जिनकी संपत्ति 1,000 करोड़ रुपये या इससे ज्यादा है। 2018 की सूची में ऐसे लोगों की संख्या 831 है। 2016 में यह संख्या 339 थी। रिलायंस इंडस्ट्रीज के प्रमुख मुकेश अंबानी इस सूची में सबसे ऊपर हैं। सूची के मुताबिक, देश के 831 अमीरों की कुल संपत्ति 719 अरब डॉलर (करीब 52.26 लाख करोड़ रुपये) आंकी गई है। यह देश के सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) के चौथाई हिस्से के बराबर है। अकेले मुकेश अंबानी की संपत्ति 3.71 लाख करोड़ रुपये है।
हुरुन इंडिया के मैनेजिंग डायरेक्टर और चीफ रिसर्चर अनस रहमान जुनैद ने कहा कि अमीरों की बढ़ती तादाद के हिसाब से भारत सबसे तेजी से बढ़ने वाला देश है। दो साल में इस सूची में शामिल लोगों की संख्या दोगुने से भी ज्यादा हो गई है। इस सूची में शामिल लोगों में सबसे कम उम्र ओयो रूम्स के रितेश अग्रवाल की है। वह मात्र 24 साल के हैं। वहीं, 95 साल की उम्र के साथ एमडीएच के धरमपाल गुलाटी सूची के सबसे उम्रदराज व्यक्ति हैं। सूची में महिलाओं की संख्या भी सालभर पहले के मुकाबले 157 फीसद बढ़कर 136 हो गई है।


    सूची में सबसे ज्यादा 13.7 फीसद लोग फार्मा सेक्टर से जुड़े हैं। सूची में सॉफ्टवेयर एवं सेवा क्षेत्र के 7.9 फीसद और उपभोक्ता वस्तुओं के कारोबार से जुड़े 6.4 फीसद लोग हैं। देश की वित्तीय राजधानी कही जाने वाली मुंबई से 233 लोगों को सूची में जगह मिली है। दिल्ली से 163 और बेंगलुरु से 70 लोग सूची में जगह बनाने में सफल रहे हैं।

    No comments:

    Post a Comment

    Pages