MP के CM की पांच लाख बहनों को चिठ्ठी, खुशहाल वातावरण ही मिशन - .

Breaking

Wednesday, 22 August 2018

MP के CM की पांच लाख बहनों को चिठ्ठी, खुशहाल वातावरण ही मिशन

MP के CM की पांच लाख बहनों को चिठ्ठी, खुशहाल वातावरण ही मिशन

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने नया चुनावी दांव खेला है। प्रदेश की पांच लाख महिलाओं (बहनों) को उन्होंने रक्षाबंधन के मौके पर मार्मिक चिठ्ठी लिखी है। चिठ्ठी का भाव यह है कि तुम मुझे पांच साल दो, मैं सुरक्षा और खुशहाल वातावरण दूंगा।  यह चिठ्ठी पोस्ट ऑफिस के माध्यम से सुदूर ग्रामीण अंचल की बहनों तक पहुंचाई जा रही है। इसमें मुख्यमंत्री ने महिलाओं के हित में मध्य प्रदेश में संचालित योजनाओं का जिक्र करते हुए कहा है कि मैं आज जिस मुकाम पर पहुंचा हूं, वो आपके आशीर्वाद से ही संभव हो सका है।
चुनावी साल में प्रदेश की भाजपा सरकार और संगठन आमजनता के घर में सीधे घुसपैठ बना रहा है। विभिन्न जनकल्याणकारी योजनाओं के बाद मुख्यमंत्री चौहान ने अपनी मुंहबोली बहनों के हृदय को छूने की कोशिश की है। 25 लाइनों के इस पत्र में एक भाई की अपनी बहन से अपील है। इसमें उन्होंने इशारों ही इशारों में अगले पांच साल का भी आशीर्वाद मांगा है।  रक्षाबंधन की शुभकामनाओं से शुरू हुई इस चिठ्ठी में मुख्यमंत्री ने अपनी बहनों से कहा है कि आपके विश्वास और सहयोग से हमने प्रदेश में परिवर्तन की शुरुआत की थी, तब से मैं स्वयं आपकी सेवा का हर संभव प्रयास कर रहा हूं। जब मैंने प्रदेश की सेवा करने का संकल्प लिया तो निश्चिय किया था कि बहनों के लिए कुछ विशेष करना है। तभी मैंने निर्णय लिया था कि मैं अपनी बहनों की जिंदगी बदलूंगा।
मुख्यमंत्री ने गिनाई योजनाएं :- मुख्यमंत्री चौहान ने लाड़ली लक्ष्मी से लेकर उन तमाम योजनाओं का जिक्र चिठ्ठी में किया है, जो भाजपा सरकार के कार्यकाल में महिलाओं और विद्यार्थियों के लिए शुरू की गई हैं। इनमें स्कूल ड्रेस, किताब, साइकिल योजना के साथ आर्थिक सहायता का भी जिक्र है। विभिन्न सरकारी नौकरियों में महिलाओं के लिए आरक्षण को भी मुख्यमंत्री ने चिठ्ठी में इंगित किया है।
बेरोजगारों को साधने की कोशिश :- मुख्यमंत्री ने प्रदेश में बेरोजगारी को लेकर सरकार के खिलाफ आमजन की नाराजगी को कम करने की कोशिश की है। उन्होंने लिखा है कि मैं चाहता हूं कि भांजे-भांजियां रोजगार लेने की बजाय रोजगार देने वाले बनें। इसलिए हमने स्वरोजगार के लिए युवा उद्यमी योजना शुरू की है। चिठ्ठी में इस योजना में मिलने वाले लाभ, ब्याज और अनुदान का जिक्र है।
मिस कॉल या एसएमएस करें :- मुख्यमंत्री ने चिठ्ठी में बहनों से अपील की है कि चिठ्ठी मिलने के बाद वे चिठ्ठी में दिए गए मोबाइल नंबर पर मिस कॉल, एसएमएस या व्‍हाट्सएप करें। इस अपील के साथ लिखा है कि चिठ्ठी के मिलते ही ये समझ लीजिएगा कि आपका भाई आपके द्वार आ गया।

No comments:

Post a Comment

Pages