लगातार तीसरे साल इंदौर ओडीएफ घोषित, थ्री स्टार रेटिंग के लिए दावा पेश - .

Breaking

Saturday, 25 August 2018

लगातार तीसरे साल इंदौर ओडीएफ घोषित, थ्री स्टार रेटिंग के लिए दावा पेश

लगातार तीसरे साल इंदौर ओडीएफ घोषित, थ्री स्टार रेटिंग के लिए दावा पेश

भारत सरकार ने लगातार तीसरे साल इंदौर को ओपन डेफिकेशन फ्री (खुले में शौच से मुक्त) घोषित कर किया है। शुक्रवार को इसका सर्टिफिकेट नगर निगम को मिल गया। यह जानकारी महापौर मालिनी गौड़ ने स्वच्छता सर्वे को लेकर हुई कार्यशाला में दी।
महापौर ने ओडीएफ सर्टिफिकेट मिलने के साथ शुक्रवार को ही इंदौर के कचरामुक्त होने का घोषणा पत्र जारी करते हुए स्वच्छता सर्वे 2019 की थ्री स्टार रेटिंग के लिए दावा पेश कर दिया। महापौर ने घोषणा पत्र में बताया है कि कचरामुक्त शहर घोषित करने की सार्वजनिक सूचना निगम ने पहले जारी की थी जिसमें 15 दिन का समय देकर लोगों से दावे-आपत्ति मांगे गए थे। निगम को केवल दो आपत्ति या सुझाव आए थे जिनका निराकरण कर दिया गया है। इसके बाद शहर ने थ्री स्टार रेटिंग के लिए संकल्प स्वीकार कर लिया है।
इसकी जानकारी प्रदेश सरकार को दे दी है ताकि वह तीसरे पक्ष से कचरामुक्त शहर का सत्यापन करा सके। इधर, निगमायुक्त आशीष सिंह ने मप्र सरकार के स्वच्छ भारत मिशन के डायरेक्टर को पत्र लिखकर थ्री स्टार रेटिंग के लिए मूल्यांकन के सर्वे करने का आग्रह किया है। आयुक्त ने दावा किया है कि इंदौर ने थ्री स्टार रेटिंग के लिए जरूरी सभी मानक प्राप्त कर लिए हैं।
अब ओडीएफ प्लस के लिए दावा :- निगमायुक्त ने बताया कि ओडीएफ सर्टिफिकेशन मिलने के बाद नगर निगम अगले कुछ दिन में ओडीएफ प्लस सर्टिफिकेशन के लिए दावा पेश करेगा। इसके तहत शहर में बने कुल पब्लिक और कम्युनिटी टॉयलेट के 10 प्रतिशत टॉयलेट में रेन वाटर हार्वेस्टिंग, 10 प्रतिशत में हैंड ड्रायर सिस्टम, 10 प्रतिशत टॉयलेट में बच्चों के हाथ धोने के लिए कम ऊंचाई वाले बेसिन, 10 प्रतिशत टॉयलेट में पानी बचाने के इंतजाम और 10 प्रतिशत टॉयलेट में सीट के साथ डस्टबिन लगा होना जरूरी है। इस समय शहर में करीब 326 पब्लिक और कम्युनिटी टॉयलेट हैं जिनमें से निगम 35 में ये सुविधाएं जुटाने की तैयारी की है। ओडीएफ प्लस सर्टिफिकेट मिलने के बाद निगम ओडीएफ प्लस प्लस के लिए दावा करेगा जिसमें ये सब सुविधां 25 प्रतिशत टॉयलेट में जुटाना होंगी।

No comments:

Post a Comment

Pages