अटलजी के निधन से दुखी युवक रेलवे पटरी पर जान देने पहुंचा - .

Breaking

Tuesday, 21 August 2018

अटलजी के निधन से दुखी युवक रेलवे पटरी पर जान देने पहुंचा

अटलजी के निधन से दुखी युवक रेलवे पटरी पर जान देने पहुंचा

पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के निधन से एक युवक इतना दुखी हुआ कि रविवार रात अपनी जान देने के लिए रेलवे पटरी पर जाकर लेट गया। करीब डेढ़ घंटे वह पड़ा रहा, लेकिन संयोग से इस दौरान कोई ट्रेन नहीं गुजरी। पुलिस की सजगता से उसकी जान बच गई और उसे घर पहुंचाया गया। वह घर पर अपना मोबाइल रखने के बाद परिवार को घूमने जाने का कहकर साइकिल से निकला था।
हीरानगर पुलिस के मुताबिक रात करीब 12 बजे सूचना मिली थी कि एमआर 10 ब्रिज के नीचे पटरी पर एक युवक आत्महत्या करने के लिए लेटा हुआ है। आरक्षक मनोज पटेल ने बताया कि एफआरवी (फर्स्ट रिस्पॉन्स व्हीकल) में प्रधान आरक्षक गोविंद मीणा मौके पर पहुंचे। पूछताछ में युवक ने अपना नाम सचिन (39) पिता कासीराम पंवार निवासी माणिकबाग कॉलोनी बताया। सचिन ने बताया कि उसके नेता अटलबिहारी वाजपेयी का निधन हो गया, वह देश के अच्छे नेता थे। उनके जाने का गम वह सह नहीं पा रहा है। इस कारण वह आत्महत्या करना चाहता है।
दो घंटे बाद माना :- मीणा युवक को एक घंटा समझाते रहे, लेकिन वह पटरी से नहीं उठा। इस पर उन्होंने थाने से और बल बुलवाया। पटेल के मुताबिक सूचना पर वे आरक्षक विनोद पटेल के साथ मौके पर पहुंचे। युवक को उठाने का प्रयास किया तो वह झूमाझटकी करने लगा। इस पर उसे जबरन उठाकर थाने लाया गया। वह बार-बार रट लगाए हुए था कि उसके नेता की मौत हो गई है। इस कारण वह जीना नहीं चाहता है। करीब दो घंटे के बाद वह माना। इसके बाद उसकी पत्नी से फोन पर संपर्क किया गया। सचिन की पत्नी ने बताया कि पति मजदूरी करता है। उसके भाई को थाने बुलाकर सचिन को घर भेजा गया।
घरेलू कलह से तंग आकर खुदकुशी की तैयारी में थी युवती :-  एक अन्य घटना में एफआरवी की टीम ने रेलवे पटरी पर आत्महत्या करने गई युवती को समय पर पहुंचकर बचा लिया। डायल 100 पर पुलिस को सूचना मिली थी कि घरेलू कलह से परेशान 19 वर्षीय युवती बाणगंगा स्थित सुखलिया क्रॉसिंग पर पटरी पर खुदकुशी करने के लिए पड़ी है। पुलिस मौके पर पहुंची और काउसंलिंग करके उसे घर पहुंचाया।

No comments:

Post a Comment

Pages