चोरी की स्कार्पियों में दिया जा रहा था शराब तस्करी को अंजाम - .

Breaking

Saturday, 18 August 2018

चोरी की स्कार्पियों में दिया जा रहा था शराब तस्करी को अंजाम

चोरी की स्कार्पियों में दिया जा रहा था शराब तस्करी को अंजाम

चोरी की स्कार्पियों में शराब तस्करी करने वाले चार आरोपितों को गुरुवार को बेलबाग पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। वहीं मामले में दो आरोपितों की तलाश की जा रही है। ओमती सीएसपी शशिकांत शुक्ला ने बताया कि 3 अगस्त तड़के 4 बजे सूचना मिली थी कि एक स्कार्पियों में शराब तस्करी की जा रही है। सूचना पर वह बेलबाग टीआई डॉ. दिनेश जोशी और स्टाफ ने घेराबंदी करते हुए पाण्डे अस्पताल के पास स्कार्पियों को रोका। पुलिस को देखकर चालक मौके से भाग निकला। पुलिस ने स्कार्पियों की तलाशी ली। जिसमें 70 हजार रुपए की शराब मिली। जांच के दौरान पता चला कि स्कार्पियों नरसिंहपुर निवासी नितिन पटेल की है। नितिन से संपर्क किया गया, जिसने बताया कि 24 जनवरी को उसकी स्कार्पियों को चोरी हो गई थी।
आरोपित ने पूछताछ में किया खुलासा  :- आरोपित गंगा नगर निवासी सागर कोष्टा को संदेह के आधार पर पूछताछ की गई। सागर ने बताया कि नरसिंहपुर निवासी अंकित चौरसिया और दुर्गेश सोनी ने स्कार्पियो चोरी की थी। इसके बाद उसमें शराब तस्करी के लिए 10 हजार रुपए पैमेंट देने को कहा था। वहीं दो माह की पैमेंट भी दी थी। 2 अगस्त को त्रिमूर्ति नगर निवासी विवेक सोनी स्कार्पियों लेकर बहोरीबंद के कुंआ गया था। जहां से विवेक और शराब दुकान का गद्दीदार अंकुर चौहान शराब लेकर शहर आ रहे थे। पुलिस की घेराबंदी देखकर स्कार्पियो छोड़कर भाग गए थे। मामले में आरोपित सागर, एक नाबालिग, विवेक और गद्दीदार अंकुर को गिरफ्तार किया गया है।
शराब दुकान मालिक फरार :- इस मामले में आरोपित जबलपुर निवासी मनीष चौधरी और लायसेंसी शराब दुकान मालिक राजीव कुमार जायसवाल फरार है, दोनों की तलाश की जा रही है।

जलने से महिला की मौत :- बम्होरा भेड़ाघाट निवासी दुर्गेश्वरी पटेल 32 को जलने के कारण 8 अगस्त को अस्पताल में भर्ती कराया गया था। इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। लार्डगंज पुलिस ने शव को पीएम के लिए भिजवाते हुए मर्ग डायरी भेड़ाघाट थाने स्थानांतरित की है।
युवक ने लगाई फांसी :- मझगवां क्षेत्र में कोढामकुर निवासी भाग्य सिंह 29 ने घर में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। पुलिस ने शव को पीएम के लिए भिजवाते हुए मर्ग जांच शुरू कर दी है।

बोरी में नवजात का शव रखकर कचरे में फेंका :- अधारताल क्षेत्र में बड़ा मदार छल्ला गुलाब नबी ने गुरुवार को पुलिस को सूचना दी कि वह दीवान पेटी बनाने का काम करता है। सुबह लगभग 11 बजे पन्नी बीनने वाले दो नाबालिग लड़के उसकी दुकान में एक प्लास्टिक की बोरी लेकर आए। बोरी को खोलकर देखा, तो उसमें तीन दिन की बच्ची का शव मिला। शव पिंक साड़ी के कपड़े, फ्लैक्स और शर्ट के कपड़े में लपटा हुआ था। दोनों नाबालिग से पूछा, तो उन्होंने बताया कि शव को मकसूद के कारखाने के प्लाट से लेकर आए है। मकसूद से पूछा, तो उसने बताया कि बोरी 14 अगस्त से प्लाट में कोई फेंककर चला गया था। पुलिस ने शव को पीएम के लिए भिजवाते हुए मर्ग जांच शुरू कर दी है।

No comments:

Post a Comment

Pages