भोपाल : दो दिन की बारिश में सभी तालाबों का जलस्तर बढ़ा - .

Breaking

Thursday, 23 August 2018

भोपाल : दो दिन की बारिश में सभी तालाबों का जलस्तर बढ़ा

भोपाल : दो दिन की बारिश में सभी तालाबों का जलस्तर बढ़ा

पिछले दो दिन से शहर में हो रही बारिश से बड़े तालाब सहित कोलार डैम, केरवा और कलियासोत डैम के जल स्तर में अच्छी बढ़ोतरी हुई है। बड़े तालाब का जल स्तर बीते दो दिन में 2.85 फीट बढ़ गया है। बुधवार को तालाब का जल स्तर 1660.60 फीट तक पहुंच गया। गत सोमवार को लेवल 1659.75 फीट था।
खास बात ये है कि पिछले साल पूरे बारिश सीजन में तालाब का जल स्तर साढ़े चार फीट ही बढ़ पाया था, जिससे लेवल 1661.50 फीट तक ही पहुंच पाया था। जबकि इस साल की बारिश में अब तक करीब 10 फीट तक भर चुका है। पिछले साल के बराबर लेवल पहुंचने के लिए 0.9 फीट पानी की जरूरत है। वहीं, तालाब का फुल टैंक लेवल 1666.80 फीट है। तालाब को लबालब होने में 6.20 फीट की जरूरत है। बता दें कि वर्ष 2016 में तालाब का जल स्तर फुल टैंक लेवल तक पहुंच पाया था।
सभी डैम में बढ़ा पनी :- इधर, दो दिन में कोलार डैम के जल स्तर में 1.79 मीटर की बढ़ोतरी हुई है। दो दिन पहले डैम का जल स्तर 448.37 मीटर था, जो बुधवार को 450.16 मीटर तक पहुंच गया। डैम का फुल टैंक लेवल 462.20 मीटर है। डैम लबालब भरने के लिए अभी 12 मीटर पानी की जरूरत है। इससे नगर निगम शहर के आधे हिस्से में रोज 34 एमजीडी पानी की सप्लाई करता है।
केरवा को छलकने के लिए चाहिए 0.73 मीटर पानी :- केरवा डैम का लेवल भी 508.65 मीटर पहुंच गया। केरवा का फुल टैंक लेवल 509.38 मीटर है। अब डैम को छलकने के लिए सिर्फ 0.73 मीटर पानी की जरूरत है। केरवा से कोलार क्षेत्र में पानी सप्लाई होती है। इसी तरह कलियासोत डैम का जल स्तर भी बुधवार को 494.96 मीटर तक पहुंच गया है। इसका फुल टैंक लेवल 505.67 मीटर है। इसे लबालब होने के लिए 10.71 मीटर पानी की जरूरत है। भदभदा के गेट खुलने के बाद कलियासोत के गेट खोले जाते हैं। इसका पानी कलियासोत नदी से होकर निकलता है।

No comments:

Post a Comment

Pages