अमित शाह की सुरक्षा का खर्च सार्वजनिक नहीं होगा : केंद्रीय सूचना आयोग - .

Breaking

Sunday, 26 August 2018

अमित शाह की सुरक्षा का खर्च सार्वजनिक नहीं होगा : केंद्रीय सूचना आयोग

अमित शाह की सुरक्षा का खर्च सार्वजनिक नहीं होगा :  केंद्रीय सूचना आयोग

केंद्रीय सूचना आयोग (सीआइसी) ने स्पष्ट किया है कि किसी की व्यक्तिगत जानकारी और उसकी सुरक्षा पर होने वाले खर्च को कानून के तहत सार्वजनिक नहीं किया जा सकता। सीआइसी ने यह बात भाजपा अध्यक्ष अमित शाह की सुरक्षा पर होने वाले खर्च की जानकारी मांगने वाले आरटीआइ आवेदन के जवाब में कही है। आयोग ने याचिकाकर्ता दीपक जुनेजा की वह अपील खारिज कर दी है जिसमें उसने किसी सामान्य व्यक्ति की सुरक्षा पर खर्च होने वाले सरकारी धन की सीमा पूछी थी।
जुनेजा ने यह जानकारी पांच जुलाई, 2014 को तब चाही थी जब अमित शाह राज्यसभा के सदस्य नहीं थे। याचिकाकर्ता ने उन लोगों के नाम की भी सूची मांगी थी जिनसे सरकार सुरक्षा मुहैया कराती है। इससे पहले गृह मंत्रालय ने मांगी गई इन सूचनाओं को कानून का हवाला देते हुए देने से इन्कार कर दिया था। बाद में जुनेजा ने दिल्ली हाई कोर्ट में आयोग के फैसले को चुनौती दी।
वहां पर जस्टिस विभू बाखरू की पीठ ने आयोग के फैसले को रद करते हुए सीआइसी को फिर से मामला देखने के लिए कहा।इसके बाद गृह मंत्रालय और सीआइसी ने मामले पर सुनवाई करते हुए एक बार फिर स्पष्ट किया है कि व्यक्तिगत सुरक्षा से संबंधित सूचनाएं नहीं दी जा सकतीं। उल्लेखनीय है कि अमित शाह को जेड प्लस श्रेणी की सुरक्षा प्राप्त है।

No comments:

Post a Comment

Pages