मप्र में कांग्रेस ने आदिवासियों में बांटे जूते-चप्पल, सरकार पर लगाए ये आरोप - .

Breaking

Monday, 27 August 2018

मप्र में कांग्रेस ने आदिवासियों में बांटे जूते-चप्पल, सरकार पर लगाए ये आरोप

मप्र में कांग्रेस ने आदिवासियों में बांटे जूते-चप्पल, सरकार पर लगाए ये आरोप

मप्र राज्य लघु वनोपज संघ द्वारा तेंदूपत्ता संग्राहकों को बांटे गए जूतों में कैंसर पैदा करने वाले रसायन की मौजूदगी को लेकर कांग्रेस और जय आदिवासी युवा शक्ति (जयस) ने प्रदेश में अभियान छेड़ दिया है। रविवार को कांग्रेस ने मंडला, डिंडौरी, कटनी, बड़वाह और जयस ने बैतूल व हरदा में आदिवासियों को नए जूते-चप्पल बांटकर पुराने वापस लिए। कांग्रेस इनमें से कुछ सैंपल जांच के लिए लैबोरेटरी भेजेगी।
मप्र कांग्रेस कमेटी के अनुसूचित जनजाति विभाग के अध्यक्ष अजय शाह ने बताया कि मंडला में पूर्व विधायक नारायण पट्टा, डिंडौरी में नीलू ठाकुर, कटनी में अजय गोटिया और बड़वाह में रंजीत ठाकुर ने आदिवासियों के बीच पहुंचकर उन्हें सरकार द्वारा बांटे गए जूते-चप्पलों से कैंसर बीमारी फैलने के खतरे के बारे में बताया। कार्यकर्ताओं ने सरकार की ओर से मिले जूते-चप्पल आदिवासियों से वापस लिए और करीब चार सौ जोड़ी नए जूते-चप्पल खरीदकर बांटे।
शाह ने बताया कि यह अभियान सोमवार से प्रदेश के अन्य जिलों में भी चलाया जाएगा। आदिवासियों से लिए गए जूते-चप्पल केंद्रीय चर्म अनुसंधान संस्थान चेन्न्ई या किसी अन्य अधिकृत लैबोरेटरी में परीक्षण के लिए भेजे जाएंगे। उधर, नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने मांग की है कि जूते-चप्पलों में खतरनाक रसायन की जांच रिपोर्ट सार्वजनिक की जाए। साथ ही यह सुनिश्चित किया जाए कि आदिवासियों को बांटे गए जूते-चप्पल स्वास्थ्य की दृष्टि से खतरनाक न हों।
सरकार की साजिश को नाकाम किया जाएगा :- जयस ने हरदा के भवरदी और बैतूल के जामूधाना गांव में तेंदूपत्ता संग्राहक आदिवासियों को नए जूते और चप्पल बांटे। इस दौरान आदिवासियों को बताया गया कि सरकार तुम्हें जूते देकर सुविधा नहीं दे रही, बल्कि बीमारी बांट रही है। संगठन के संरक्षक डॉ. हीरालाल अलावा ने बताया कि दो जिलों के दो गांव में सात सौ जोड़ी जूते-चप्पल बांटकर अभियान की शुरुआत की है और हफ्तेभर में पूरे प्रदेश में जूते-चप्पल बांटे जाएंगे। उन्होंने बताया कि ये आदिवासियों के खिलाफ सरकार की साजिश है, जिसे नाकाम किया जाएगा।

No comments:

Post a Comment

Pages