सफाई के लिए खोला तो जनता ने ही कर लिया गाड़ी अड्डा ब्रिज का 'लोकार्पण' - .

Breaking

Monday, 27 August 2018

सफाई के लिए खोला तो जनता ने ही कर लिया गाड़ी अड्डा ब्रिज का 'लोकार्पण'

सफाई के लिए खोला तो जनता ने ही कर लिया गाड़ी अड्डा ब्रिज का 'लोकार्पण'

33 करोड़ रुपए में बनकर तैयार हुए गाड़ी अड्डा रेल ओवरब्रिज का 'लोकार्पण' लोगों ने खुद ही कर लिया। कुछ दिन पहले तक तो ब्रिज को पीडब्ल्यूडी ने बंद कर रखा था, लेकिन इसे सफाई के लिए खोला गया तो यहां से वाहनों की आवाजाही शुरू हो गई। इधर, राजनीतिक स्तर पर ब्रिज के लोकार्पण की तैयारी जरूर हो रही है। कुछ दिन में ब्रिज का औपचारिक लोकार्पण हो भी गया तो शेष काम के लिए यहां ट्रैफिक बंद करना पड़ेगा।
ब्रिज का काम 2015 में शुरू हुआ था और इसे दो साल में पूरा होना था। पहले अतिक्रमण नहीं हटने और बाद में रेलवे पोर्शन के देरी से बनने के कारण इसका काम करीब डेढ़ साल देरी से पूरा हुआ है। अभी ब्रिज की स्लैब पर मास्टिक एसफॉल्ट की एक कोटिंग मौसम खुला रहने के दौरान हो चुकी है, लेकिन फाइनल कोटिंग नियमानुसार मानसून सीजन बीतने के बाद ही होगी, वरना डामर उखड़ने का खतरा रहेगा। पीडब्ल्यूडी अफसरों का कहना है कि अभी कुछ दिन सफाई के लिए ब्रिज को खोला गया है। सफाई के बाद इसे फिर बंद किया जाएगा। बारिश के कारण अभी ब्रिज पर रंगरोगन जैसे काम भी नहीं हुए। ये भी बारिश बाद होंगे। ब्रिज पर लाइट के पोल लगाए जा रहे हैं, यह काम छह-सात दिन में पूरा होगा।
तीसरी भुजा बनने में लगेगा सालभर :- ब्रिज की हाथीपाला तरफ बनने वाली तीसरी भुजा बनने में सालभर लगेगा। यह 257 मीटर लंबी होगी और 10.40 मीटर चौड़ी होगी। इसके निर्माण पर पीडब्ल्यूडी करीब 5.29 करोड़ रुपए खर्च कर रहा है। यह काम भी बारिश बाद तेजी से करने की तैयारी है।
लोकार्पण की तारीख तय नहीं :- गाड़ी अड्डा ब्रिज के लोकार्पण की तारीख अभी तय नहीं है। पहले कार्यक्रम 31 अगस्त को होना था लेकिन विभागीय मंत्री की व्यस्तता के कारण टल गया। अब 3 सितंबर के बाद लोकार्पण होगा। ब्रिज पर लाइट के 80 प्रतिशत खंभे लग गए हैं। लोगों ने ब्रिज का उपयोग शुरू कर दिया है, लेकिन इससे इसे कोई खतरा या समस्या नहीं है।

No comments:

Post a Comment

Pages