कांग्रेस शासन में गड्ढों में नींद खुलते ही लगता था मप्र में आ गए : गडकरी - .

Breaking

Monday, 23 July 2018

कांग्रेस शासन में गड्ढों में नींद खुलते ही लगता था मप्र में आ गए : गडकरी

कांग्रेस शासन में गड्ढों में नींद खुलते ही लगता था मप्र में आ गए : गडकरी

केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि कांग्रेस के समय जब नागपुर से निकलते थे, तो जैसे ही गड्ढे शुरू हों और नींद खुलते ही अहसास हो जाता था कि मप्र में प्रवेश कर गए। गुना से शिवपुरी तक 100 किमी की दूरी तय करने में जो परेशानी होती थी, आज उसी मार्ग पर 100 किमी तक पेट का पानी नहीं हिलेगा।  कांग्रेस शासनकाल में सड़कों की बदहाल हालत देखकर मुख्यमंत्री ने कहा था राष्ट्रीय राजमार्गों को राजमार्ग में बदल दो, ताकि हम बेहतर सड़कें बना सकें। लेकिन मैंने भरोसा दिलाया कि बजट और पैसे की वजह से कोई भी प्रोजेक्ट पेंडिंग नहीं रहेगा, जो आज सच साबित कर दिखाया है।केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी सोमवार दोपहर लाल परेड मैदान पर नेशनल हाइवे नं. 3 (एनएच-46) की तीन परियोजनाओं का लोकार्पण करते हुए बतौर मुख्य अतिथि बोल रहे थे।
उन्होंने कहा कि शिवपुरी से गुना और गुना से ब्यावरा के अलावा लखनादौन से छपारा फोरलेन मार्ग के निर्माण में आ रहीं अड़चनों को तत्परता से दूर कराया, बल्कि काम में भी पैसों की कमी नहीं आने दी। हमने ठेकेदार को भी साफ कह दिया था कि 140 की स्पीड में यदि चाय फैली, तो कार्रवाई पक्की। अब उन सड़कों पर आप चलोगे तो अहसास होगा कि कैसी सड़कें बनी हैं, जहां तेज रफ्तार पर भी पेट का पानी नहीं हिल सकता। कार्यक्रम की अध्यक्षता मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने की।
क्रॉप पैटर्न बदलने की जरूरत :- केंद्रीय मंत्री गडकरी ने कहा कि हमें क्रॉप पैटर्न बदलने की जस्र्रत है। क्योंकि, देश का किसान पेट्रोल-डीजल की समस्या खत्म कर सकता है। यदि मुख्यमंत्री चौहान किसानों को इथेनॉल बनाने की अनुमति दें, तो उनकी तकदीर बदल सकती है। क्योंकि, ऊर्जा के क्षेत्र में कृषि उत्पादों का उपयोग हो सकेगा। इथेनॉल शुगर फैक्ट्री के वेस्ट व कॉटन बीज, बांस, चावल की पराली आदि से तैयार होगा। इसका फायदा भी किसानों को मिलेगा। 
अमेरिका की सड़कों से अच्छा फोरलेन :- मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि मैंने अमेरिका में मप्र की सड़कों की तारीफ क्या कर दी! कांग्रेसियों के पेट में बल पड़ गए। लेकिन आज मैं फिर दोहराता हूं कि अमेरिका की सड़कों से अच्छा फोरलेन है। इस दौरान उन्होंने जनता से सवाल भी पूछ कि कांग्रेस के जमाने में कभी ऐसी सड़कें थीं, तो जनता ने न में जवाब दिया। सीएम ने कहा कि जब भाजपा को सत्ता मिली थी, तो बीमारू राज्य का ठप्पा लगा था। लेकिन आज सड़क-बिजली के मामले में कांगे्रस के शासन से तुलना कर देख लेना, अंतर समझ आ जाएगा। उन्होंने कहा कि अगले चार सालों में हम प्रदेश को हिंदुस्तान का नंबर-1 राज्य बना देंगे। 
अब कमलनाथ मांग रहे हिसाब! :- मुख्यमंत्री ने कहा कि कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष कमलनाथ सिंह हिसाब मांग रहे हैं। लेकिन इसके जवाब में भी उनसे सवाल पूछता हूं। कांग्रेस के शासन में भी आपके पास बजट और पैसा था। लेकिन सड़कों मेें गड्ढे या गड्ढों में सड़क मालूम नहीं चलती थी। कांग्रेस के मंत्री के पास कोई पहुंचता था, तो पैसा न होने की बात कही जाती थी। जबकि भाजपा ने विकास में पैसे की कोई कमी नहीं आने दी।

No comments:

Post a Comment

Pages