डिप्टी कमिश्नर के मंडला, रीवा व भोपाल के ठिकानों पर छापे, 4 करोड़ की संपत्ति मिली - .

Breaking

Saturday, 28 July 2018

डिप्टी कमिश्नर के मंडला, रीवा व भोपाल के ठिकानों पर छापे, 4 करोड़ की संपत्ति मिली

डिप्टी कमिश्नर के मंडला, रीवा व भोपाल के ठिकानों पर छापे, 4 करोड़ की संपत्ति मिली

मंडला जिले में पदस्थ आदिम जाति कल्याण विभाग के सहायक आयुक्त संतोष शुक्ला के रीवा सहित मंडला व भोपाल के ठिकानों पर शनिवार को छापे मारे गए। लोकायुक्त जबलपुर की पांच टीमों द्वारा की गई एकसाथ कार्रवाई में करीब 4 करोड़ की चल-अचल संपत्ति के दस्तावेज हाथ लगे हैं।
लोकायुक्त ने मंडला व रीवा के दो-दो व भोपाल के एक ठिकाने पर छापा मारा। लोकायुक्त ने मंडला स्थित सरकारी आवास और कार्यालय में सुबह 7 बजे व रीवा के शांति बिहार कॉलोनी स्थित मकान व कुम्मर्रा गांव के पैतृक घर में सुबह 5 बजे छापा मारा। मंडला में सरकारी आवास को सील कर दिया गया है।
जानकारी मुताबिक शुक्ला अपना इलाज कराने फिलहाल नागपुर में हैं। टीम ने कार्यालय में दस्तावेजों को खंगाला। हालांकि कर्मचारियों की हड़ताल के चलते यहां कार्रवाई आगे नहीं बढ़ सकी। भोपाल में पुलिस अधिकारियों की निजी आवासीय कॉलोनी वैशाली नगर में टीम ने कार्रवाई की। बताया जाता है कि भोपाल में संतोष शुक्ला की पत्नी जयश्री अपने पुत्र वैभव के साथ रह रही थीं। वैशाली नगर में जिस मकान में वे रह रही हैं, उसके स्वामित्व की जांच लोकायुक्त पुलिस द्वारा की जा रही है। मकान में लोकायुक्त पुलिस को करीब सात लाख रुपए की घरेलू, विलासिता की चीजें मिली हैं।
यह संपत्ति बरामद
- शांति बिहार कॉलोनी में मकान- कीमत 22 लाख
- साज-सज्जा का सामान 18 लाख 43 हजार रुपए
- डेढ़ लाख रुपए नकद
- मकान से लगा हुआ 5 हजार वर्गफीट का आवासीय प्लाट कीमत 85 लाख
- शांति बिहार में एचआईजी प्लॉट- कीमत 55 लाख 
- शांति बिहार में 8700 वर्गफीट का आवासीय प्लाट व बाउंड्री निर्माण कुल कीमत 1 करोड़
- खेती योग्य खरीदी गई जमीन की कुल कीमत 35 लाख तथा पुस्तैनी 6 एकड़ जमीन 
- मोटर साइकिल, एक 800 कार, ढाई लाख की एलआईसी तथा एक लाख 75 हजार रुपए एसबीआई खाते में 
इसके साथ ही कुछ अहम दस्तावेज मिले हैं। जिसमें बैंक की तीन पासबुक व बैंक लॉकर की चाबी शामिल है। इसका खुलासा सोमवार को बैंक में जांच के बाद होगा।
इनका कहना है :- अब तक हुई जांच में कुल 4 करोड़ की संपत्ति सामने आई है। जांच चल रही है। इस संपत्ति में मंडला में मिली संपत्ति को नहीं जोड़ा गया है। जांच पूरी होने के बाद जबलपुर लोकायुक्त कार्यालय से पूरी जानकारी लग सकेगी - हितेन्द्रनाथ शर्मा, निरीक्षक, लोकायुक्त, रीवा

No comments:

Post a Comment

Pages