40 प्रतिशत ब्याज पर देती थी पैसा, फिर इस तरह करती वसूली - .

Breaking

Thursday, 26 July 2018

40 प्रतिशत ब्याज पर देती थी पैसा, फिर इस तरह करती वसूली

40 प्रतिशत ब्याज पर देती थी पैसा, फिर इस तरह करती वसूली

पंढरीनाथ पुलिस ने मंगलवार रात महिला सूदखोर और उसके वसूली एजेंट के खिलाफ केस दर्ज कर गिरफ्तार किया। आरोपित 22 से 40 प्रतिशत ब्याज पर रुपए उधार देती थी। सूदखोर रुपए देने के बाद प्रतिदिन सौ से चार सौ रुपए वसूल करती थी। ब्याज पर रुपए देने के पहले पीड़ितों से पहचानपत्र और कोरे चेक जमा कर लेती थी। पांच माह पहले वसूली के लिए महिला ने पीड़िता के घर में घुसकर मारपीट की थी।
पंढरीनाथ पुलिस ने मंगलवार रात शहनाज बी निवासी कड़ावघाट की शिकायत पर शकीला हुसैन निवासी पिंजारा बाखल और उसके वसूली एजेंट सीताराम के खिलाफ मप्र ऋणियों का संरक्षण अधिनियम सहित अन्य धाराओं में केस दर्ज किया। टीआई प्रवीण ठाकरे ने बताया कि आरोपित के खिलाफ पांच महिलाओं ने ब्याज पर रुपए देने के बाद ज्यादा वसूली करने की शिकायत की। अंजुम ने बताया कि वह सिलाई करती है। पति ऑटो चलाता है।
2016 में उसने आरोपित से 22.23 प्रतिशत ब्याज पर 20 हजार रुपए लिए थे। आरोपित ने 6 हजार रुपए ब्याज के एडवांस काटकर सिर्फ 14 हजार रुपए दिए। दो सौ रुपए प्रतिदिन के हिसाब से सौ दिन में उक्त रुपए चुकाने थे। रुपए नहीं देने पर एक दिन का 60 रुपए जुर्माना लगने की बात आरोपित ने बताई थी। महिला ने बताया कि 14 हजार लोन के बदलने उसने 15200 रुपए चुका दिए थे। इसके बाद दोबारा जरूरत पड़ने पर 30 हजार रुपए आरोपित से ब्याज पर लिए थे। आर्थिक समस्या के चलते कुछ किस्तें समय पर नहीं दे पाई। उक्त लोन के बदले में 12300 रुपए लौटा दिए गए। बाकी 17700 रुपए जमा करने में समस्या आ रही थी।
अप्रैल 2018 में आरोपित ने उसे बताया कि लोन 30 हजार से बढ़कर ब्याज सहित 40 हजार रुपए हो गया है। पूरा पैसा एक साथ नहीं लौटाने पर केस में फंसाने की धमकी दी। शहनाज बी ने बताया कि छह माह पहले उसने रुपयों की जरूरत पड़ने पर आरोपित से दस हजार रुपए 22 प्रतिशत ब्याज पर लिए थे। वसूली के लिए सीताराम (एजेंट) और आरोपित के पिता घर आते थे। महिला पुरानी पेनल्टी जोड़कर 50 हजार रुपए लोन लेने का दबाव बनाने लगी। उक्त लोन के ऐवज में वह पांच हजार रुपए ले गई। 29 मई को आरोपित कई लोगों के साथ घर पहुंची और मारपीट करने लगी थी। पुलिस ने आरोपित और कलेक्शन एजेंट को गिरफ्तार किया।
इन लोगों ने भी की शिकायत  :- पुलिस के मुताबिक परवीन निवासी पिंजारा बाखल ने वर्ष 2015 में पति मो आरिफ के इलाज के लिए 10 हजार रुपए लिए थे। वह 40 हजार रुपए लौटा चुकी है। सायरा बी निवासी कड़ावघाट ने दुकान खोलने के लिए 10 हजार रुपए ब्याज पर लिए थे। 60 हजार रुपए लौटाने के बाद भी आरोपित उसे परेशान कर रही थी। शहनाज मोहम्मद निवासी कड़ावघाट ने भी आरोपित के खिलाफ शिकायत की।
सूदखोरों से परेशान होकर व्यापारी ने खाया जहर  :- एरोड्रम थाना क्षेत्र के रुकमणि नगर निवासी योगेश शर्मा ने मंगलवार रात घर में जहर खा लिया। पत्नी पूजा और साला राज अवस्थी उसे इलाज के लिए एमवाय अस्पताल ले गए। योगेश ने बताया कि हाट बाजार में मिठाई की दुकान है। वहां काम करने वाले कर्मचारी अरविंद निवासी चंदेरी को उसने चिंटू निवासी जनता क्वार्टर सहित दो अन्य से ब्याज पर रुपए दिलवाए थे। जनवरी में कर्मचारी भाग गया। कर्मचारी ने एक सूदखोर से 35 हजार, दूसरे से 60 हजार और एक अन्य से 4 हजार रुपए 20 प्रतिशत ब्याज पर लिए थे। कर्मचारी के भागने के बाद सूदखोर उससे 8 हजार रुपए 25 प्रतिशत ब्याज दर से वसूल रहे थे। रविवार को सनावदिया गांव के बाजार में उसे चिंटू धमकाने आया था। पुलिस के मुताबिक सूदखोरों से परेशान होकर आत्महत्या का प्रयास किया था। पुलिस ने व्यापारी के बयान लिए। सुसाइड नोट में सूदखोरों के नाम लिखे हैं।

No comments:

Post a Comment

Pages