सतना जिले में 4 साल की मासूम से दुष्कर्म, मरा समझकर खेत में छोड़ा, आरोपी गिरफ्तार - .

Breaking

Monday, 2 July 2018

सतना जिले में 4 साल की मासूम से दुष्कर्म, मरा समझकर खेत में छोड़ा, आरोपी गिरफ्तार

सतना जिले में 4 साल की मासूम से दुष्कर्म, मरा समझकर खेत में छोड़ा, आरोपी गिरफ्तार

मंदसौर के बाद सतना में एक मासूम बच्ची हैवानियत का शिकार बन गई। जिले के उचेहरा क्षेत्र में घर के आंगन में पिता के साथ सो रही एक 4 साल की मासूम बच्ची को नशे में धुत युवक उठा ले गया। घर से एक किमी दूर खेत में ले जाकर दुष्कर्म किया और मरा समझकर बच्ची को वहां छोड़कर भाग निकला। पुलिस ने आरोपित युवक को गिरफ्तार कर लिया गया है। घटना रविवार की देर रात की है। 2 घंटे खेत में पड़ी रही, हालत गंभीर गांव पन्ना निवासी आरोपित युवक महेन्द्र सिंह गौंड (25) शराब के नशे में धुत होकर रविवार की रात 10 बजे पीड़ित बच्ची के घर पहुंचा और उसके पिता से बातचीत की।
वह घर के पास ही छिप गया। रात 12 बजे जब पिता शौच के लिए चला गया तो उसने आंगन में सो रही मासूम को ले गया। इधर पिता जब घर लौटा तो बच्ची चारपाई में नहीं थी, बच्ची की मां से पूछा तो उसे भी कुछ पता नहीं था। परिजन ग्रामीणों की सहायता से बच्ची को खोजने निकल गए।
रात 2 बजे घर से करीब एक किमी दूर एक खेत में बच्ची गंभीर हालत में मिली। बच्ची को तुरंत उचेहरा अस्पताल में भर्ती कराया, यहां से उसे सोमवार सुबह जिला अस्पताल रेफर कर दिया। अस्पताल में डॉक्टर नहीं, 10 घंटे तक नर्सें करती रहीं इलाज पीड़ित बच्ची को सोमवार की सुबह करीब 7 बजे जिला अस्पताल लाया गया था। उस समय यहां डॉक्टर मौजूद नहीं थे सिर्फ नर्सें थीं। इन्हीं के भरोसे बच्ची की इलाज चलता रहा। शाम करीब 4.30 बजे जब नागौद विधायक यादवेन्द्र सिंह अस्पताल पहुंचे तो उन्होंने डॉक्टर नहीं होने पर नाराजगी जताई। सिविल सर्जन एसबी सिंह को फोन लगाया। इसके बाद भी करीब एक घंटे बाद डॉक्टर अस्पताल पहुंचे और बच्ची का इलाज किया गया।
विधायक और एसपी में नोकझोंक :- शाम को एसपी राजेश हिंगढ़कर भी अस्पताल पहुंचे। वहां मौजूद विधायक यादवेन्द्र और एसपी में हल्की नोकझोंक हो गई। एसपी का कहना था कि विधायक बेवजह मामले को तूल दे रहे हैं, जबकि बच्ची का इलाज किया जा रहा है और उसकी हालत अब ठीक है।
शक होने पर आरोपित के घर पहुंचे :- पीड़ित के परिजन परिजनों ने मामले की जानकारी पुलिस को दी और महेन्द्र सिंह गौंड पर शक होने पर उसके घर पन्ना गांव पहुंचे। जैसे ही आरोपित ने पुलिस को देखा वह भागने लगा, लेकिन पुलिस ने उसे दबोच लिया।

No comments:

Post a Comment

Pages