विवाह का आखिरी मुहूर्त 21 जुलाई तक, फिर 19 नवंबर से बजेगी शहनाई - .

Breaking

Saturday, 21 July 2018

विवाह का आखिरी मुहूर्त 21 जुलाई तक, फिर 19 नवंबर से बजेगी शहनाई

विवाह का आखिरी मुहूर्त 21 जुलाई तक, फिर 19 नवंबर से बजेगी शहनाई

अब शादी-विवाह के मुहूर्त समाप्त होने जा रहे हैं। 21 जुलाई को भड़लिया नवमी पर शादी का आखिरी श्रेष्ठ और अबूझ मुहूर्त है। 23 जुलाई को देवशयनी एकादशी से सभी मांगलिक कार्य बंद हो जाएंगे। फिर 19 नवंबर से शादियों की शहनाई बजेगी। 27 से चातुर्मास शुरू होगा। इस दौरान दो मलमास भी आएंगे। भड़लिया नवमी पर सर्वार्थ सिद्धि योग भी है। ऐसे में कई जोड़े इस दिन के शुभ मुहूर्त में परिणय सूत्र में बंधेंगे। इसके बाद देवशयन और चातुर्मास शुरू हो जाने से विवाह नहीं होंगे।
मां चामुंडा दरबार के पुजारी पंडित रामजीवन दुबे ने बताया कि नए परिवार की रचना के लिए होने वाले विवाह संस्कार शुभ मुहूर्त में करने के लिए सनातन धर्मी अच्छे मुहूर्त की तलाश करते हैं। जुलाई में 21 को सर्वार्थ सिद्धि योग में सबसे ज्यादा विवाह होंगे। फिर देवोत्थान एकादशी 19 नवंबर को अबूझ मुहूर्त से शादियों की शुरुआत हो जाएगी। ज्योतिषाचार्य विनोद रावत ने बताया कि देव उठनी ग्यारस के बाद नवंबर में विवाह का कोई शुभ मुहूर्त नहीं है। जनवरी, फरवरी और मार्च में अच्छे मुहूर्त हैं।

No comments:

Post a Comment

Pages