15 से नलों में लगेंगे मीटर, शुरू होगी स्पॉट बिलिंग, महंगा होगा पानी - .

Breaking

Monday, 2 July 2018

15 से नलों में लगेंगे मीटर, शुरू होगी स्पॉट बिलिंग, महंगा होगा पानी

15 से नलों में लगेंगे मीटर, शुरू होगी स्पॉट बिलिंग, महंगा होगा पानी

 नगर निगम द्वारा किए जा रहे पानी सप्लाई का अब लोगों को बूंदबूंद का हिसाब देना होगा। नगर निगम 15 जुलाई से नलों में मीटर लगाने की तैयारी में है। जैसे ही मीटर लगाने का काम पूरा हो जाएगा, वहां स्पॉट बिलिंग भी शुरू कर दी जाएगी। इसके बाद यूनिट के हिसाब से उपभोक्ताओं को पानी का शुल्क जमा करना होगा। मीटर लगाने की शुरुआत जोन नंबर 15 स्थित इंद्रपुरी, सोनागिरी आदि क्षेत्रों से होगी। इसके बाद पूरे शहर में निगम की टीम सर्वे करते हुए मीटर लगाएगी।
नगर निगम ने मीटर की रीडिंग और स्पॉट बिलिंग करने का जिम्मा हैदराबाद की कंपनी मेसर्स एनालॉजिक्स टेक इंडिया और प्राइमवन वर्क फोर्स भोपाल को सौंपा है। यह कंपनी न केवल रीडिंग और स्पॉट बिलिंग का काम करेगी, बल्कि खराब मीटर भी बदलेगी। बता दें कि पिछले आठ महीने से निगम स्पॉट बिलिंग के लिए कंपनी की तलाश में जुटी थी। निगम अधिकारियों के अनुसार उपभोक्ता भी बाजार से आईएसआई मार्क वाला मीटर खरीद सकते हैं, अन्यथा कंपनी ही मीटर लगाएगी। इस खर्च की वसूली उपभोक्ताओं से ही होगी।
अप्रैल से शुरू होना था, जलसंकट से हुई देरी :- बता दें कि तत्कालीन निगम आयुक्त प्रियंका दास ने गत अप्रैल महीने से ही सर्वे कर मीटर लगाने और स्पॉट बिलिंग का काम करने के निर्देश दिए थे। इसके लिए कंपनी के प्रतिनिधियों के साथ निगम के वार्ड प्रभारी व एई की जिम्मेदारी तय की गई थी। जोनल अधिकारी टीम गठित कर राजस्व का काम देखने और एई को मॉनिटरिंग करते हुए पानी संबंधी डाटा सेंट्रलाइज्ड करने के निर्देश दिए थे। लेकिन अप्रैल, मई और जून महीने में जलसंकट हो गया, जिससे मीटर लगाने का काम टल गया।
ऐसे महंगा होगा पानी :- वर्तमान में बिना मीटर आधा इंच घरेलू कनेक्शन पर 180 रुपए प्रति माह लगते हैं। लेकिन मीटर लगने के बाद 10 हजार लीटर तक 6.30 रुपए प्रति हजार लीटर की दर पर बिल आएगा। 10 से 20 हजार लीटर तक खपत होने पर 9.80 रुपए प्रति हजार लीटर के हिसाब से चार्ज लगेगा। जबकि, 20 हजार लीटर से अधिक खपत पर 12 रुपए प्रति हजार लीटर के हिसाब से शुल्क लगेगा। इससे एक पांच सदस्यीय परिवार की जरूरत के पानी पर 300 से 500 तक खर्च आएगा।
निगम के सामने यह है चुनौती :- निगम प्रशासन ने करीब 1 लाख उपभोक्ताओं के यहां मीटर लगाए थे। लेकिन ज्यादातर लोगों ने मीटर निकाल दिए। वहीं साकेत नगर सहित कई इलाके में 400 से अधिक मीटर चोरी हो गए। ऐसे में उपभोक्ता दोबारा मीटर पर खर्च का विरोध करेंगे। एक साल पहले भेल क्षेत्र के चार जोन से स्पॉट बिलिंग चालू हुई थी, लेकिन फर्जी बिल की शिकायतों के कारण निगम ने कंपनी का ठेका निरस्त कर दिया था। इस बार फर्जी बिलिंग की समस्या न हो यह निगम के लिए चुनौती है।

No comments:

Post a Comment

Pages