खनिज मंत्री ने कपूर परिवार को कराई टाइगर सफारी की सैर, कानून तोड़ने पर CZA से शिकायत - .

Breaking

Monday, 4 June 2018

खनिज मंत्री ने कपूर परिवार को कराई टाइगर सफारी की सैर, कानून तोड़ने पर CZA से शिकायत

खनिज मंत्री ने कपूर परिवार को कराई टाइगर सफारी की सैर, कानून तोड़ने पर CZA से शिकायत

 कृष्णा राजकपूर ऑडिटोरियम का शुभारंभ करने रविवार को रीवा पहुंचे राजकपूर के परिजनों को खनिज मंत्री राजेंद्र शुक्ल ने महाराजा मार्तण्ड सिंह जूदेव व्हाइट टाइगर सफारी की सैर कराई। इस दौरान मंत्री ने खुद बैटरी वाहन चलाया। आरटीआई कार्यकर्ता अजय दुबे ने केंद्रीय चिड़ियाघर प्राधिकरण (सीजेडए) से इस मामले की शिकायत की है। दुबे का आरोप है कि मंत्री ने ऐसा कर वन्यप्राणी कानून तोड़ा है। रीवा में अभिनेता स्व. राजकपूर की ससुराल है। यहां स्व. कपूर की याद में ऑडिटोरियम का निर्माण किया गया है।
इसके शुभारंभ कार्यक्रम में अभिनेता प्रेम चोपड़ा, रणधीर कपूर सहित कपूर परिवार के सदस्य आए थे। मंत्री सभी को मुकुंदपुर व्हाइट टाइगर सफारी दिखाने ले गए थे। दुबे ने आरोप लगाया कि मंत्री और अभिनेता के सफारी भ्रमण के दौरान चिड़ियाघर के गेट बंद कर दिए गए और सफेद बाघ सहित अन्य जानवरों को देखने आए पर्यटकों को चिड़ियाघर के बाहर पेड़ों की छांव में खड़ा होकर समय गुजारना पड़ा। जब तक मंत्री और उनके मेहमान लौट नहीं गए। पर्यटकों को बाहर ही रोके रखा गया। दुबे का आरोप है कि टाइगर सफारी की सैर निर्धारित वाहनों से ही कराई जा सकती है, लेकिन मंत्री और उनके
मेहमानों को सैर कराते हुए चिड़ियाघर प्रबंधन ने इस नियम को भी तोड़ा। सफारी वाहन के साथ मंत्री का वाहन भी सफारी क्षेत्र में ले जाया गया। दुबे ने बताया कि मामले में संबंधितों पर कार्रवाई की मांग सीजेडए से की है। उल्लेखनीय है कि चिड़ियाघर में जानवरों की मौत को लेकर दुबे ने हाल सीजेडए से शिकायत की थी। सीजेडए की जांच में चिड़ियाघर पर लगे आरोप सही पाए गए हैं।

No comments:

Post a Comment

Pages