मालवा-निमाड़ में आंधी के साथ झमाझम बारिश, पेड़ गिरे - .

Breaking

Wednesday, 6 June 2018

मालवा-निमाड़ में आंधी के साथ झमाझम बारिश, पेड़ गिरे

मालवा-निमाड़ में आंधी के साथ झमाझम बारिश, पेड़ गिरे

मालवा निमाड़ क्षेत्र में मंगलवार शाम झमाझम बारिश हुई। अनेक स्‍थानों पर पेड़ गिर गए। खंडवा में झमाझम बारिश हुई। आंधी से शहर में 3-4 बड़े पेड़ धराशायी हो गए। बिजली गुल होने के कारण लोगों को परेशान होना पड़ा। सड़कों पर पानी भराने से भी आवाजाही बाधित हुई। मूंदी और गांधवा में भी तेज बारिश हुई। बुरहानपुर में धूलभरी आंधी चलने से जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया। इंदौर-इच्छापुर राजमार्ग पर बने ताप्ती नदी के पुल पर धूलभरे बवंडर के कारण 15 से 20 मिनट तक दोनों तरफ यातायात बाधित हुआ। शहरी क्षेत्र सहित ग्रामीण अंचल में कुछ घरों के टीनशेड उड़ गए। खरगोन में भी कई स्थानों पर धूल भरी आंधी चली। सनावद में तेज बारिश हुई। देवास के सोनकच्छ और अजनास में दोपहर बाद एक घंटे तक रिमझिम बारिश हुई।
मौसम दिनभर तरह-तरह के रंग दिखा रहा :- इंदौर में मौसम दिनभर तरह-तरह के रंग दिखा रहा है। सुबह तेज धूप, दिन में पसीना-पसीना करती उमस और शाम को तेज हवा के साथ झमाझम बारिश। मंगलवार दिनभर तापमान में उतार-चढ़ाव जारी रहा। शाम करीब 4 बजे एकाएक मौसम बदल गया। पूर्वी और पश्चिमी क्षेत्र में तेज हवा के साथ जोरदार बारिश शुरू हुई। 16 से 20 किमी प्रति घंटा की रफ्तार से हवा चली। इससे कई वाहन चालक जहां थे, वहीं रुक गए। कई जगह पेड़ भी गिरे।
पश्चिम क्षेत्र में महू नाका पेट्रोल पंप के सामने, फूटी कोठी, रणजीत हनुमान मंदिर और जिला अस्पताल में पेड़ गिर गए। इससे कुछ देर के लिए हड़कंप मच गया। उधर, चांदमारी का बगीचा क्षेत्र में एक टीन शेड दूर तक उड़कर खंभे पर अटक गया। उसे जैसे-तैसे लोगों की मदद से निकाला गया। इससे क्षेत्र में लाइट गुल रही।
दिन का तापमान 2 डिग्री ज्यादा :- दिन में वातावरण में 61 फीसदी आर्द्रता थी, तो शाम को 54 फीसदी। भीषण गर्मी के चलते सुबह और शाम की आर्द्रता में अंतर कम हो गया। हालांकि दिन के तापमान में ज्यादा गिरावट नहीं आई। अधिकतम तापमान सामान्य से 2 डिग्री ज्यादा 40.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ।
मौसम विभाग का अनुमान - एक हफ्ते तक रहेगा ऐसा ही मौसम :- मौसम केंद्र के मुताबिक प्री मानसून गतिविधि के तहत अगले एक हफ्ते तक ऐसा ही मौसम बना रहेगा। बारिश से कुछ देर के लिए मौसम ठंडा होगा। इसके बाद उमस बढ़ सकती है।
अब तक पौन इंच :- मंगलवार को 6.7 मिमी बारिश रिकॉर्ड हुई है। इसके पहले 2 जून को 17.8 मिलीमीटर बारिश हुई थी। यानी अब तक करीब एक इंच पानी शहर में बरस चुका है।
30 से ज्यादा जगह पेड़ गिरे :- मंगलवार शाम आई आंधी के कारण 30 से ज्यादा जगह पेड़ या उनकी शाखाएं गिर गईं। नगर निगम कंट्रोल रूम के मुताबिक आंधी से फूटी कोठी, दस्तूर गार्डन, संगम नगर, मूसाखेड़ी, सुदामा नगर, रणजीत हनुमान मंदिर रोड, वृंदावन कॉलोनी, महू नाका, सत्यम विहार कॉलोनी, नंदनवन कॉलोनी, माणिकबाग रोड, टेलीफोन कॉलोनी, खातीवाला टैंक, महालक्ष्मी मंदिर (उषा नगर), बंगाली चौराहे के पास सर्विस रोड, रिंग रोड और परदेशीपुरा इलाकों में सड़क पर यातायात प्रभावित हुआ। नगर निगम ने तत्काल इन्हें हटाने की कार्रवाई की।
चेन्न्ई से आए विमान को अहमदाबाद भेजा :- शहर में खराब मौसम का असर विमानों पर भी पड़ा। चेन्न्ई से इंदौर आए इंडिगो के एक विमान को उतरने की अनुमति नहीं दी गई और उसे अहमदाबाद डायवर्ट करना पड़ा। जेट के एक विमान को भी करीब 15 मिनट तक हवा में चक्कर लगाने के बाद उतरने की अनुमति मिली। इंडिगो का एक विमान सिक्स ई 143 चेन्न्ई से शाम 7.10 बजे इंदौर आकर 7.40 बजे रवाना होता है। मंगलवार को भी यह विमान इंदौर आया, लेकिन तेज बारिश और हवा के कारण एटीसी ने विमान अहमदाबाद डायवर्ट कर दिया। इस दौरान चेन्न्ई जाने वाले यात्रियों को परेशानी का सामना करना पड़ा। विमान देर रात इंदौर आया। फिर चेन्न्ई रवाना हुआ।

No comments:

Post a Comment

Pages