छत्तीसगढ़ को एक लाख अतिरिक्त पीएम आवास का पुरस्कार - .

Breaking

Sunday, 3 June 2018

छत्तीसगढ़ को एक लाख अतिरिक्त पीएम आवास का पुरस्कार

छत्तीसगढ़ को एक लाख अतिरिक्त पीएम आवास का पुरस्कार

प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) के तहत छत्तीसगढ़ ने देश के अन्य राज्यों की तुलना में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया है। केंद्रीय ग्रामीण विकास मंत्रालय प्रतिदिन इस योजना का राज्यवार मूल्यांकन कर रहा है। इसके अंतर्गत राज्यों के प्रदर्शन सूचकांकों की श्रेणी में छत्तीसगढ़ लगातार तीन महीनों से नंबर वन के रैंक पर चल रहा है। राज्य के ग्रामीण क्षेत्रों में इस योजना के तहत विगत तीन वर्ष में लगभग आठ लाख गरीब परिवारों को पक्के मकान देने का जो लक्ष्य था, उसमें से अब तक 93 प्रतिशत उपलब्धि हासिल की जा चुकी है।
इस योजना में राज्य के उत्कृष्ट प्रदर्शन को देखते हुए केन्द्र सरकार ने चालू वित्तीय वर्ष में छत्तीसगढ़ को एक लाख अतिरिक्त मकानों की स्वीकृति दी है। पंचायत और ग्रामीण विकास मंत्री अजय चन्द्राकर ने बताया कि योजना के तहत प्रदेश में वर्ष 2016-17 के लिए दो लाख 32 हजार 903 और वर्ष 2017-18 के लिए दो लाख छह हजार 372 मकानों का लक्ष्य दिया गया था। इस प्रकार इन दो वर्षों में कुल 4 लाख 39 हजार 275 ग्रामीण आवास निर्माण का लक्ष्य राज्य को मिला है। इसी प्रकार वर्ष 2018-19 के लिए पूर्व में केंद्र सरकार ने एक लाख 84 हजार आवास निर्माण का लक्ष्य दिया था। दिसंबर 2017 में इसमें एक लाख और अब फिर एक लाख की बढ़ोतरी की गई है। इससे अब 2018-19 के लिए निर्धारित लक्ष्य तीन लाख 48 हजार 960 हो गया है।
पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के सचिव पीसी मिश्रा ने बताया कि राज्य सरकार ने चार आदिवासी बहुल और नक्सल प्रभावित जिलों- बीजापुर, सुकमा, दंतेवाड़ा और नारायणपुर की विशेष परिस्थितियों को देखते हुए वहां इस योजना के हितग्राहियों के लिए दो कमरे के पक्के मकान स्वीकृत करने का निर्णय लिया है।

No comments:

Post a Comment

Pages