चेकिंग के दौरान कार से कुचले गए एएसआई ने 13वें दिन दम तोड़ा - .

Breaking

Friday, 29 June 2018

चेकिंग के दौरान कार से कुचले गए एएसआई ने 13वें दिन दम तोड़ा

चेकिंग के दौरान कार से कुचले गए एएसआई ने 13वें दिन दम तोड़ा

चेकिंग के दौरान 16 जून को कार चालक की बर्बरता का शिकार होकर बुरी तरह जख्मी हुए एएसआई अमृतलाल भिलाला (52) ने गुरुवार शाम इलाज के दौरान अस्पताल में दम तोड़ दिया। वह तेज रफ्तार कार के साथ करीब 700 मीटर तक सड़क पर घिसटने के कारण गंभीर रूप से घायल हो गए थे। ड्यटी करते हुए जान देने वाले भिलाला को शासन ने शहीद का दर्जा दिया है। उनका पार्थिव शरीर शुक्रवार को अंतिम दर्शनों के लिए नेहरू नगर पुलिस लाइन ग्राउंड में रखा जाएगा। इसके बाद राजकीय सम्मान के साथ उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा।
निशातपुरा थाना प्रभारी चैनसिंह रघुवंशी ने बताया कि 16 जून की रात में एएसआई अमृतलाल भिलाला स्टाफ के साथ 80 फीट रोड पर बेस्ट प्राइज के पास चेकिंग कर रहे थे। इस दौरान कार क्रमांक एमपी-04-सीपी-4360 को रोकने वह आगे बढ़े। चालक ने कार रोकने के बजाए कार की रफ्तार और बढ़ा दी। इस दौरान अमृतलाल कार के बंपर में बुरी तरह फंस गए। इसी स्थिति में वह कार के साथ सड़क से करीब 700 मीटर तक घिसटते चले गए। आगे एक ब्रेकर पर कार के उछलने पर वह बंपर से अलग हुए। चालक उन्हें रौंदते हुए फरार हो गया था। अमृतलाल तभी से नर्मदा ट्रॉमा सेंटर में भर्ती थे। इस घटना में उनकी पीठ,पसलियां,कूल्हा,दोनों पैर बुरी तरह चोटिल हो गए थे। करीब दो दिन बाद वह होश में आए थे। गुरुवार को शाम करीब 5:30 बजे अमृतलाल की मौत हो गई।
आरोपितों पर दर्ज होगा हत्या का मामला : - अमृतलाल को रौंदकर भागी कार को पुलिस ने 17 जून को सिंगारचोली के पास से लावारिस हालत में बरामद कर लिया था। इस मामले में पुलिस ने अगले दिन कार चालक नारियलखेड़ा निवासी मयंक आर्य (21) और उसके साथियों दानिशकुंज निवासी मोहित सिंगरोली और देवकी नगर निवासी अभिषेक सिंगरोली को गिरफ्तार कर लिया था।रेस फिल्म देखकर लौटते समय इन्होंने वारदात की थी। आरोपितों के खिलाफ सरकारी काम में अड़चन डालने, हत्या के प्रयास का केस दर्ज किया था। सभी आरोपित जेल में हैं। अमृतालाल की मौत हो जाने से हत्या की धारा बढ़ा दी जाएगी।
घटनाक्रम :- 16 जून को निशातपुरा इलाके में हादसा हुआ ।17 जून को तीनों आरोपित गिरफ्तार, कार जब्त। 18 जून को अमृतलाल को आया होश, एयर टैक्सी से बाहर ले जाने की तैयारी 22 जून को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, गृहमंत्री भूपेंद्र सिंह, डीजीपी ऋषि कुमार शुक्ला, आईजी जयदीप प्रसाद और डीआईजी धर्मेंद्र चौधरी अस्पताल जाकर अमृतलाल से मिले थे और चल रहे इलाज से संतुष्ट थे।

No comments:

Post a Comment

Pages