उज्जैन विश्वविद्यालय के कई पाठ्यक्रमों को पढ़ने वालों का इंतजार - .

Breaking

Saturday, 26 May 2018

उज्जैन विश्वविद्यालय के कई पाठ्यक्रमों को पढ़ने वालों का इंतजार

उज्जैन विश्वविद्यालय के कई पाठ्यक्रमों को पढ़ने वालों का इंतजार

विक्रम विश्वविद्यालय के व्यावसायिक पाठ्यक्रम में प्रवेश लेने में विद्यार्थी रुचि नहीं दिखा रहे हैं। गत वर्ष 'एयर फेयर एंड ट्रेवल मैनेजमेंट' कोर्स में सिर्फ 3 और 'टूर एंड होटल मैनेजमेंट' कोर्स में सिर्फ 1 विद्यार्थी के दाखिले से यही प्रमाणित होता है। शुक्रवार से विवि फिर यूजी (स्नातक) एवं पीजी (स्नातकोत्तर) पाठ्यक्रम में प्रवेश के लिए ऑनलाइन एडमिशन प्रक्रिया शुरु करने जा रहा है। फोकस अपनी सभी 29 अध्ययनशालाओं में शत-प्रतिशत एडमिशन कराने पर है, मगर प्रयास नाकाफी नजर आ रहे हैं।
जानकारी मुताबिक गत वर्ष टूर एंड होटल मैनेजमेंट में 1, एयर फेयर एंड ट्रेवल मैनेजमेंट में 3, एमलिब एंड इनफर्मेशन साइंस में 2, बीलिब में 8, एमकॉम में 8, बीएससी ऑनर्स में 11, एमएसडब्ल्यू में 10 विद्यार्थियों ने एडमिशन लिया था। बीकॉम ऑनर्स, एमएससी और बैचलर ऑफ इंजिनियरिंग में एडमिशन की स्थिति औसतन ठीक-ठाक रही थी। कुल जमा सभी 29 अध्ययनशालाओं में सिर्फ 1038 विद्यार्थियों ने एडमिशन पाया था और ये संख्या कुल सीटों के मुकाबले बहुत कम थी। विवि प्रशासन इस साल सभी पाठ्यक्रम में शतप्रतिशत एडमिशन कराने के प्रति चिंतित है, मगर इसके लिए प्रयास नाकाफी हैं।
विवि ने स्कूल शिक्षा विभाग की तर्ज पर कॅरियर काउंसलिंग सेमिनार या शिविर जैसा कोई आयोजन नहीं किया है। कहने को विवि प्रशासनिक भवन में विद्यार्थियों की काउंसलिंग के लिए कार्यालयीन समय में स्टूडेंट वेलफेयर के डीन डॉ. राकेश ढंड उपलब्ध तो रहते मगर विद्यार्थी इन्क्वायरी के लिए पहुंच ही नहीं रहे। बताया कि विवि की वेबसाइट पर शुक्रवार से विद्यार्थी प्रवेश के लिए आवेदन कर सकेंगे। इस साल प्रवेश के लिए उम्र का बंधन समाप्त कर दिया गया है। यानी किसी शख्स ने बीच में पढ़ाई छोड़ दी थी तो अब किसी भी उम्र में आगे की पढ़ाई नियमित रूप से जारी रख सकता है।
कुलपति का दावा- बेस्ट फैकल्टी और पाठ्यक्रम है हमारे पास : -  विक्रम विवि के कुलपति प्रो. एसएस पांडे ने नईदुनिया से कहा कि हमारे पास बेस्ट फैकल्टी और पाठ्यक्रम हैं। कॅरियर आधारित कई कोर्सेस विक्रम विवि में हैं। विद्यार्थी अध्ययनशाला में तथा यूनिवर्सिटी में आकर मार्गदर्शन प्राप्त कर सकते हैं। रहा सवाल कमियों का तो कमियां कहां नहीं होती। कमियां को दूर करने के लिए हम प्रयासरत हैं।
उत्कृष्ट विद्यालय और माधव साइंस कॉलेज में काउंसलिंग : - 12वीं पास विद्यार्थियों को विषय चयन में सहायता प्रदान करने के लिए शासन की योजना 'छू लेंगे आसमां' अंतर्गत शासकीय उत्कृष्ट विद्यालय माधवनगर और माधव साइंस कॉलेज में कॅरियर काउंसलिंग हो रही है। पिछले तीन दिनों में दोनों जगह 250 से ज्यादा बच्चे विभिन्न शिफ्ट में कॅरियर मार्गदर्शन पा चुके हैं। एक्सपर्ट विद्यार्थियों को उनकी क्षमता और रुचि के अनुसार विषय चयन के लिए प्रेरित कर रहे हैं।

No comments:

Post a Comment

Pages