पुष्य नक्षत्र व सर्वार्थ सिद्धि योग पर भारी रही चिलचिलाती धूप, शाम को दिखी थोड़ी रौनक - .

Breaking

Monday, 21 May 2018

पुष्य नक्षत्र व सर्वार्थ सिद्धि योग पर भारी रही चिलचिलाती धूप, शाम को दिखी थोड़ी रौनक

पुष्य नक्षत्र व सर्वार्थ सिद्धि योग पर भारी रही चिलचिलाती धूप, शाम को दिखी थोड़ी रौनक

रविवार अवकाश का दिन, पुष्य नक्षत्र उसपर पर भी सर्वार्थ सिद्धि योग का शुभ संयोग। बावजूद इसके रविवार को बाजारों में वो रौनक दिखाई नहीं दी, जिसकी उम्मीद की जा रही थी। दरअसल शहर में पड़ रही भीषण गर्मी के कारण शहर में व्यवसाय खासा ठंडा रहा और चिलचिलाती धूप पुष्य नक्षत्र व सर्वार्थ सिद्धि योग पर भारी पड़ गई। भीषण गर्मी के कारण लोग खरीददारी करने अपने घरों से निकले ही नहीं और शहर के मुख्य बाजारों में दिनभर सन्नाटा पसरा रहा। हालांकि देर शाम पारा गिरते ही बाजारों में थोड़ी रौनक दिखाई दी।
शाम को न्यूमार्केट, 10 नंबर मार्केट, एमपी नगर, बरखेड़ा, चौक बाजार व शहर के अन्य प्रमुख बाजारों में बर्तन, ज्वैलरी, इलेक्ट्रानिक आयटम व अन्य घरेलू सामग्री की दुकानों पर लोग खरीददारी करते हुए दिखाई दिए। कई शोरूम संचालकों द्वारा खरीददारों को लुभाने के लिए डिस्कांउट भी दिया जा रहा था।
इन दिनों अधिकमास चल रहे हैं, ऐसे में पुष्य नक्षत्र व अधिकमास के संबंध में मां चामुंडा दरबार के पुजारी पं. रामजीवन दुबे ने बताया कि भगवान विष्णु के नाम पुरुषोत्तम के नाम से यह मास जाना जाता है। इस माह में सूर्य की संक्रांति नहीं होती, इसलिए सभी मांगलिक कार्य वर्जित रहते हैं। लेकिन पुष्य नक्षत्र में खरीदारी करना विशेष फलदायी माना जाता है।
हालांकि में अधिकमास में जप-तप, अनुष्ठान, दान, श्रीमद्भागवत कथा, रामकथा आदि धार्मिक आयोजनों के अलावा पवित्र नदियों में स्नान करने के का विशेष महत्व है। रविवार को भी शहर की शीतलदास की बागिया स्थित बड़े तालाब में श्रद्धालु बड़ी संख्या में पवित्र स्नान करते हुए दिखाई दिए।

No comments:

Post a Comment

Pages