सरकार ने 24 मार्च को ‘अर्थ आवर’ के दौरान की बिजली बंद रखने की अपील - .

Breaking

Friday, 23 March 2018

सरकार ने 24 मार्च को ‘अर्थ आवर’ के दौरान की बिजली बंद रखने की अपील

सरकार ने 24 मार्च को ‘अर्थ आवर’ के दौरान की बिजली बंद रखने की अपील

सरकार ने ऊर्जा संरक्षण के मकसद से हर साल 24 मार्च को मनाये जाने वाले ‘अर्थ आवर’ के दौरान देशवासियों से एक घंटे के लिये गैरजरूरी बत्तियां बंद रखने की अपील की है. वन एवं पर्यावरण मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने कल रात साढ़े आठ बजे से साढे नौ बजे तक ‘अर्थ आवर’ के दौरान अपनी तरफ से ऊर्जा संरक्षण की पहल करते हुये कहा कि वह अपने आवास और कार्यालय में बिजली से जलने वाली बत्तियां एक घंटे तक बंद रखेंगे. उन्होंने बिजली संरक्षण का हवाला देते हुये देशवासियों से भी इस पहल में बढ़ चढ़ कर हिस्सा लेने की अपील की है. अर्थ आवर की पूर्व संध्या पर अपने संदेश में आज हर्षवर्धन ने कहा ‘‘कल मैं अपने घर और कार्यालय में एक घंटे तक गैरजरूरी बत्तियां बंद रखूंगा. इस अभियान में आप सब भी शिरकत करें.’’ उन्होंने प्रकृति से जितना लिया जाये उतना ही वापस भी लौटाने के सिद्धांत के आधार पर कल अर्थ आवर के दौरान ‘‘गिव अप टू गिव बैक’’ और ‘कनेक्ट टू अर्थ’ मुहिम में देशवासियों से अधिकतम भागीदारी सुनिश्चित करने की अपील की.


उन्होंने कहा कि इस अभियान का मकसद प्राकृतिक संसाधनों के संतुलित उपभोग का हवाला देते हुये लोगों को अपनी आदतों में बदलाव करने के प्रति जागरुक करना है. जिससे रोजमर्रा की जरूरतों को सतत रूप से पूरा किया जाता रहे. उल्लेखनीय है कि अर्थ आवर पर्यावरण संरक्षण का वैश्विक संदेश देने के लिये शुरू किया गया दुनिया का सबसे बड़ा अभियान है. विश्व प्रकृति निधि (डब्ल्यूडब्ल्यूएफ) द्वारा शुरु किये गये इस अभियान के तहत इस साल दुनिया भर के 178 देशों में 24 मार्च को रात साढ़े आठ बजे से साढ़े नौ बजे तक गैरजरूरी बत्तियां बुझा दी जायेंगी. हर्षवर्धन ने इस दौरान लोगों से पर्यावरण संरक्षण के लिये मंत्रालय द्वारा शुरू किये ‘ग्रीन गुड डीड’ 


अभियान के तहत प्रतिदिन एक पौधा लगाने, वाहनों का साझा इस्तेमाल करने, कचरे का निस्तारण, प्लास्टिक का इस्तेमाल नहीं करने और कम दूरी के लिये साइकिल की सवारी करने जैसे कामों को बढ़ावा देने की अपील की.

No comments:

Post a Comment

Pages