जानिए क्यों करते हैं सरस्वती पूजा, पढ़ें इससे जुड़े कुछ रोचक रिवाज - .

Breaking

Monday, 22 January 2018

जानिए क्यों करते हैं सरस्वती पूजा, पढ़ें इससे जुड़े कुछ रोचक रिवाज

बसंत पंचमी 2018: जानिए क्यों करते हैं सरस्वती पूजा, पढ़ें इससे जुड़े कुछ रोचक रिवाज

 बसंत पंचमी हर वर्ष हिन्दू पंचांग के अनुसार माघ महीने में शुक्ल पक्ष की पंचमी तिथि को बड़े उल्लास से मनाया जाता है. इसे माघ पंचमी भी कहते हैं. बसंत ऋतु में पेड़ों में नई-नई कोंपलें निकलनी शुरू हो जाती हैं. नाना प्रकार के मनमोहक फूलों से धरती प्राकृतिक रूप से सज जाती है. खेतों में सरसों के पीले फूल की चादर की बिछी होती है. और, कोयल की कूक से दसों दिशाएं गुंजायमान रहती है. बसंत पंचमी का त्योहार 22 जनवरी 2018 को पूरी श्रद्धा के साथ मनाया जा रहा है.

कब है शुभ मुहूर्त
इस त्योहार पर सरस्वती पूजा का शुभ मुहूर्त सुबह 07 बजकर 17 मिनट से शुरू हो जाएगा. यह मुहूर्त करीब 5 घंटे और 15 मिनट तक रहेगा यानी दोपहर 12 बजकर 32 मिनट पर देवी सरस्‍वती की आराधना का शुभ मुहूर्त समाप्त हो जाएगा. पारम्परिक रूप से यह त्यौहार कठिन शीत ऋतु के बीत के जाने और खुशनुमा मौसम आने के रूप में सेलेब्रेट करने का खास दिन है, जिससे अनके रीति-रिवाज और धार्मिक मान्यताएं भी जुड़ी हुई हैं.

No comments:

Post a Comment

Pages