इस भारतीय लड़की को आती थी इतनी अच्छी इंग्लिश कि ब्रिटिश सरकार ने कर दिया वीजा देने से मना - .

Breaking

Tuesday, 19 December 2017

इस भारतीय लड़की को आती थी इतनी अच्छी इंग्लिश कि ब्रिटिश सरकार ने कर दिया वीजा देने से मना

इस भारतीय लड़की को आती थी इतनी अच्छी इंग्लिश कि ब्रिटिश सरकार ने कर दिया वीजा देने से मना


भारतीय महिला अलेक्जेंड्रिया रेंटौल अपने पति के साथ स्कॉटलैंड में नहीं रह सकती क्योंकि उसकी अंग्रेजी जरूरत से ज्यादा अच्छी है. 22 वर्षीय अलेक्जेंड्रिया रेंटौल पति बॉबी रेंटौल के साथ स्कॉटलैंड में पहला क्रिसमस मनाने जा रही थीं. दोनों की मई में शादी हुई थी और पिछले तीन महीने से पति से दूर हैं. BBC की खबर के मुताबिक, उनका वीजा इसलिए रिजेक्ट कर दिया गया क्योंकि अलेक्जेंड्रिया ने अंतर्राष्ट्रीय अंग्रेजी भाषा परीक्षण प्रणाली पास किया है. बल्कि उन्हें बस बेसिक टेस्ट की जरूरत थी. 

इमिग्रेशन लॉयर ने लिया था टेस्ट
कपल ने इमिग्रेशन लॉयर को हायर किया था, जहां उनसे कहा गया था कि उच्च परीक्षा पास करनी होगी. अलेक्जेंड्रिया रेंटौल ने लेटर पढ़ा तो उसमें लिखा था कि उन्हें योग्यता से अधिक अंग्रेजी आती है. पति बॉबी ने कहा- ''यह सिर्फ पैसा बनाने वाला संगठन है. वे कुछ विवेक का इस्तेमाल कर सकते थे और उच्च योग्यता स्वीकार कर सकते थे.''

वो टेस्ट के लिए 3 लाख रुपये खर्च कर चुकी हैं.अगले टेस्ट के लिए ढेड़ लाख रुपये और लगेंगे. अलेक्जेंड्रिया ने कहा- ''मुझे पैसे अपने बच्चे, पति और नए घर में खर्च करने चाहिए थे. लेकिन वीजा के लिए मुझे ये पैसे खर्च करने पड़ रहे हैं. उन्होंने मेरा वीजा इसलिए रिजेक्ट किया क्योंकि वो इस बात से संतुष्ठ नहीं है कि मैं जिस देश से आती हूं जहां अग्रेजी बोली जाती है.''


अब क्रिसमस मनाने भारत आ रहे हैं बॉबी
बॉबी ने अब भारत में ही पत्नी के साथ क्रिसमस मनाने का प्लान बनाया है. क्योंकि उन्हें अब 30 दिन के बाद ही फॉर्म भरना पड़ेगा. अलेक्जेंड्रिया फिलहाल अपने पति और परिवार से दूर बैंगलोर के एक होटल में रह रही हैं. उम्मीद करते हैं कि जल्द से जल्द से मसला सॉल्व हो और वो जल्द स्कॉटलैंड में अपने नए घर में रहें.

No comments:

Post a Comment

Pages