GES में बोले पीएम मोदी, महिलाओं की तरक्की से ही देश की तरक्की संभव है - .

Breaking

Tuesday, 28 November 2017

GES में बोले पीएम मोदी, महिलाओं की तरक्की से ही देश की तरक्की संभव है

GES में बोले पीएम मोदी, महिलाओं की तरक्की से ही देश की तरक्की संभव है


 हैदराबाद में वैश्विक उद्यमिता शिखर सम्मेलन (जीईएस) में पीएम नरेंद्र मोदी और इवांका ट्रंप ने रोबोट 'मित्र' का बटन दबाकर GES का उद्घाटन किया. कार्यक्रम में पीएम मोदी ने कहा कि देश के विकास के लिए महिला सशक्तिकरण काफी अहम है. नरेंद्र मोदी ने कहा कि भारतीय संस्‍कृति में महिला को शक्‍ति का प्रतीक माना जाता है. इनकी तरक्‍की से ही देश और समाज की तरक्‍की संभव है.

भारत में महिलाओं का इतिहास काफी मजबूत
पीएम मोदी ने कहा कि सातवीं शताब्‍दी में दार्शनिक गार्गी हुई. रानी अहिल्‍याबाई होल्‍कर और रानी लक्ष्‍मीबाई ने अपनी जमीन बचाने के लिए बहादुरी से लड़ाइयां लड़ी. भारत में महिलाओं का इतिहास काफी मजबूत रहा है. हमारे देश के मंगल अभियान जैसे अंतरिक्ष कार्यक्रम में महिलाओं की काफी अहम भूमिका रही है. कल्‍पना चावला और सुनीता विलियम्‍स दोनों ही भारतीय मूल की महिलाएं है जो अमेरिकी स्‍पेस मिशन का हिस्‍सा रही है. हैदराबाद शहर में साइना नेहवाल, पीवी सिंधु और सानिया मिर्जा जैसी प्रतिभाशाली खि‍लाड़ी रही हैं. हम शहरी और ग्रामीण निकायों में एक तिहाई महिलाओं का प्रतिनिधि‍त्‍व सुनिश्‍च‍ित कर रहे हैं.


'भारत हमेशा से इनोवेशंस को बढ़ावा देता रहा है'
मोदी ने कहा कि लिज्‍जत पापड़ बनाने वाली महिलाएं कोऑपरेटिव संस्‍थाएं चलाकर इस काम को कर रही है. इस समिट में भी आधी से ज्‍यादा महिलाएं शामिल है. मोदी ने कहा कि भारत हमेशा से आंत्रप्रेन्‍योरशि‍प और इनोवेशंस को बढ़ावा देते रहा है. चरक संहिता ने आयुर्वेद को बढ़ावा दिया. इस देश ने दुनिया को योग, आज पूरी दुनिया 21 जून को योग दिवस मनाती है. योग अध्‍यात्‍म और आयुर्वेद को बढ़ावा देने के लिए कई आंत्रप्रेन्‍योर्स काम कर रहे हैं. पीएम मोदी ने कहा कि दुनिया बायनरी सिस्‍टम से चलती है. शून्‍य का आविष्‍कार एक भारतीय आर्यभट्ट ने ही किया था. टैक्‍सेशन, पाब्‍ल‍िक फाइनेंस पॉलिसी जैसे मुद्दों पर कौटिल्‍य के अर्थशास्‍त्र में जिक्र मिलता है. 

आंत्रप्रेन्‍योर्स को साहस के साथ आगे बढ़ना चाहिए
पीएम मोदी ने कहा जो भी समय से आगे का सोचेंगे उन्हें दुनिया पागल ही समझेगी, लेकिन आज के आंत्रप्रेन्‍योर्स को इससे घबराना नहीं चाहिए. उन्हें साहस के साथ आगे बढ़ना चाहिए. मोदी ने कहा उनकी सरकार का स्टार्टअप इंडिया प्रोग्राम आंत्रप्रेन्योर्स की मदद करने के लिए बनाया गया है. पीएम मोदी ने कार्यक्रम में कहा कि सरकार ने व्यावसायिक माहौल को बेहतर बनाने के कई उपाय किए हैं और इसी का नतीजा है कि व्यापार सुगमता की रैंकिंग में भारत ने लंबी छलांग लगाई है. 
इस समारोह में तेलंगाना के मुख्‍यमंत्री के चंद्रशेखर राव, विदेश मंत्री सुषमा स्वराज, रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण भी मौजूद थीं. 

1200 से ज्यादा आंत्रप्रेन्‍योर ले रहे हैं हिस्सा
GES-2017 में 127 देशों के 1200 से ज्‍यादा आंत्रप्रेन्‍योर भाग ले रहे हैं. इनमें भारत से करीब 400 और अमेरिका से करीब 350 प्रतिनिधि और अन्‍य दूसरे देश के प्रतिनिधि शामिल हो रहे हैं. 30 नवंबर तक चलने वाली समिट की थीम वुमेन फर्स्ट, प्रॉस्पेरिटी फॉर ऑल है.

No comments:

Post a Comment

Pages