सावधान: आपकी रसोई में मौजूद ये चीजें हैं बीमारियों का खजाना - .

Breaking

Tuesday, 18 July 2017

सावधान: आपकी रसोई में मौजूद ये चीजें हैं बीमारियों का खजाना

Image result for kitchen appliances 

घर के कई हिस्से ऐसे होते हैं जो साफ-सफाई के ढेरों जतन करने के बावजूद कई गंभीर बीमारी पनपने की जगह होते हैं। स्वच्छता विशेषज्ञों की मानें तो यह स्थान शौचालय या बाथरूम न होकर आपके घर की संभवत: सबसे साफ रहने वाली जगह रसोईघर है। रसोईघर में रोजाना इस्तेमाल होने वाली कई ऐसी चीजें हैं, जिनके जरिये ई-कोलाई और सालमोनेला जैसे जानलेवा संक्रमण फैलने का खतरा रहता है। इनमें रोजमर्रा में काम आने वाले बर्तनों से लेकर आज हर घर में आमतौर पर इस्तेमाल होने वाला चॉपिंग बोर्ड तक शामिल है। 
हाल में हुए एक शोध में विशेषज्ञों ने दावा किया है कि रसोईघर में इस्तेमाल होने वाले सामान में प्रति वर्ग इंच में 61,597 बैक्टीरिया हो सकते हैं। इस कारण इसे शौचालय से दो सौ गुना गंदा करार दिया है, जिससे मिचली, डायरिया और भयंकर पेट दर्द की शिकायत हो सकती है। 
चॉपिंग बोर्ड बैक्टीरिया पनपने का मुख्य स्थान
स्वच्छता और सेहत के क्षेत्र में काम करने वाली प्रमुख ब्रिटिश वेबसाइट द हाईजीन डॉक्टर की डॉक्टर लीसा एकर्ले ने कहा कि आजकल चॉपिंग बोर्ड हर आधुनिक रसोईघर में होते हैं। यह गंदगी या बैक्टीरिया पनपने का मुख्य स्थान है। हम में से ज्यादातर लोग इनके इस्तेमाल में चूक करतें हैं। हमें इन्हें समय-समय पर बदलना चाहिए और इसकी साफ-सफाई सही तरीके से करनी चाहिए। 
चॉपिंग बोर्ड से स्वत: साफ हो जाते हैं बैक्टीरिया
हकीकत यह है कि सब्जी या सलाद काटने वाले चॉपिंग बोर्ड पर अगर एक बार जीवाणु अपनी जड़े जमा लेते हैं, तो वे आसानी से नहीं जाते हैं। यह कई हफ्तों तक रहते हैं और चॉपिंग बोर्ड से फ्रिज समेत अन्य स्थानों पर जल्दी पहुंच जाते हैं। रोजाना इस्तेमाल से चॉपिंग बोर्ड पर पड़ने वाले निशान में यह बैठ जाते हैं और सामान्य सफाई से नहीं निकलते हैं।
सभी चॉपिंग बोर्ड एक साथ साफ न करें
यह बात खासतौर से उन लोगों के लिए ध्यान देने की है, जो मांसाहारी हैं। मांसाहार पकाने वाले रसोईघर में दो चॉपिंग बोर्ड रखना बेहतर होगा, एक मांसाहारी चीजों के लिए और दूसरा सब्जी, सलाद व पनीर के लिए। एक की गंदगी से दूसरे को संक्रमण से बचाने के लिए इन्हें एक साथ साफ नहीं करना चाहिए। 
रसोई घर के बर्तन तरल साबुन से साफ करना काफी नहीं
किचन बोर्ड हो या बर्तन, सिर्फ तरल साबुन से साफ करना काफी नहीं होता है। स्वच्छता विशेषज्ञ बताते हैं कि इनके इस्तेमाल से संक्रमणकारी जीवाणुओं को कुछ हद तक साफ तो किया जा सकता है, मगर इससे वे पूरी तरह खत्म नहीं होते हैं। इसके लिए जरूरी है रसोई में इस्तेमाल के लिहाज से सुरक्षित कीटाणुनाशक का इस्तेमाल नियमित रूप से किया जाए।
कटने के निशान वाले बोर्ड लंबे समय तक साफ
यह जरा सी किफायत आपकी सेहत के लिए घातक हो सकती है। स्वच्छता विशेषज्ञों का कहना है कि अगर आप किचन बोर्ड का इस्तेमाल कर रहे हैं तो, उसकी नियमित सफाई का ध्यान रखें। उसमें कटने के अधिक निशान पड़ जाएं, तो किफायत के चक्कर में लंबे समय तक इस्तेमाल न करें। उन्हें सीलन या फफूंद से बचाएं, ताकि संक्रमण जड़ें न जमा पाए।

No comments:

Post a Comment

Pages